दुनिया
इंडोनेशिया में शरिया कानून- सार्वजनिक स्थल पर अपने प्रेमी के निकट होने पर युवती पर बरसाए गए कोड़े

इंडोनेशिया के बंदा अक़ेह में एक जोड़े को सार्वजनिक स्थल पर एक-दूसरे के काफी निकट होने पर शरिया कानून के आधार पर दंड दिया गया। उन दोनों को एक मस्जिद के सामने घुटनों पर बैठाया गया और बांस की बेंत से मारा गया। उन दोनों को 25-25 बेंत मारी गई। शरिया कानून के तहत समलैंगिकता, व्यभिचार, शराब सेवन और जुआ भी अपराध है। इनमें से कुछ अपराधों के लिए 200 तक की बेंतें मारी जाती हैं।

बंदा अक़ेह क्षेत्र में अलगाववादियों की बढ़ती दहशत के कारण इंडोनेशिया सरकार ने वहाँ इस्लामिक शरिया कानून लागू कर दिया है। इस क्षेत्र को 2005 में विशेषाधिकार भी मिले थे। इंडोनेशिया विश्व के उन देशों में से है जहाँ अधिकांश लोग मुस्लिम हैं, यहाँ 22.5 करोड़ लोग इस्लाम का पालन करते हैं, मिरर  ने रिपोर्ट किया।

हाल ही में मलेशिया में एक समलैंगिक जोड़े को “कार में लेस्बियन सम्भोग” के लिए कोड़े मारे गए थे। छः कोड़ों के साथ उन्हें और भारी जुर्माना भरना पड़ा। लोगों की स्वतंत्रता छीनने कका और उनपर बेरहम कानून लागू करना अब इस क्षेत्र में आम हो चुका है। लोगों की भीड़ के सामने उनका अपमान भी किया जाता है।