दुनिया
विश्व सैन्य खेलों में धोखाधड़ी से जीतने पर मेजबान चीन की टीम हुई अयोग्य घोषित

एक अभूतपूर्व कार्रवाई में विश्व सैन्य खेलों के आयोजकों ने धोखाधड़ी के लिए पूरे चीनी सैन्य समूह को ही अयोग्य घोषित कर दिया है।

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, प्रत्येक चार वर्ष पर होने वाले विश्व सैन्य खेलों का आयोजन इस बार चीन के वुहान में हो रहा है। माना जा रहा है कि मेजबान चीनी सैनिकों का दस्ता पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ही धोखाधड़ी के पीछे है। इस प्रतियोगिता के परिणाम में चीन सबसे आगे रहा।

रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं के लिए होने वाली ओरिएंटिंयरिंग प्रतियोगिता में चीनी सैनिकों ने पहला, दूसरा और चौथा स्थान प्राप्त किया था, जबकि पुरुषों के लिए होने वाली इसी प्रतियोगिता में चीनी सैनिक दूसरे स्थान पर रहे थे। हालाँकि, अंतरराष्ट्रीय ओरिएंटिंयरिंग महासंघ (आईओएफ) ने इसके परिणाम को रद्द कर दिया।

इस आयोजन में भाग लेने वाले अन्य देशों द्वारा शिकायत किए जाने के बाद आईओएफ की निर्णायक समिति ने पाया कि चीनी धावकों को स्थानीय दर्शकों द्वारा सहायता प्रदान की गई थी। दर्शकों ने चिह्नों को रखा था और चीनी धावकों के लिए इलाके में विशेष पथ तैयार किए गए थे, जो विशेष रूप से केवल चीनी प्रतिभागियों की पहचान में आ सकता था।

आईओएफ ने एक बयान जारी कर कहा, “आईओएफ चीनी सैन्य समूहों के इस कृत्य को बहुत गंभीरता से लेता है।” आईओएफ के महासचिव टॉम होलोएल ने एक बयान में कहा, “चीन के ग्वांगझू में आगामी विश्व कप फाइनल में प्रतिस्पर्धा की निष्पक्षता की गारंटी देने के लिए यदि कोई और कार्रवाई करने की आवश्यकता है तो हम उसके लिए जाँच कर रहे हैं।”