समाचार
केरल में गैर-हलाल रेस्त्राँ चलाने पर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने महिला उद्यमी को पीटा

केरल के एर्नाकुलम जिले में 15 जनवरी 2021 को एक विशेष गैर-हलाल रेस्त्राँ खोलने वाली महिला तुशारा अजीत पर सोमवार (25 अक्टूबर) को जानलेवा हमला हुआ। महिला ने अस्पताल से फेसबुक लाइव के माध्यम से घटना की जानकारी दी।

ऑप इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, उत्तरजीविता अपने गैर-हलाल रेस्त्राँ की दूसरी शाखा खोलने जा रही थी, जिसको लेकर इस्लामवादियों से उसे धमकियाँ मिल रही थीं। इस्लामवादी गैर-हलाल बोर्ड लगाने के विरुद्ध भी धमकी दे रहे थे।

उत्तरजीविता ने अपने फेसबुक लाइव में बताया कि रेस्त्राँ में गैर-हलाल खाना परोसने और बाहर इसका पोस्टर लगाने की वजह से उन्हें बुरी तरह पीटा गया। उत्तरजीविता की बेटी ने अपनी माँ को एम्बुलेंस से अस्पताल ले जाने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर साझा किया है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने ट्वीट किया, “तुशारा अजीत पर हमले की हम निंदा करते हैं। हलाल होटल के लिए ना मानने पर मुस्लिम कट्टरपंथियों के एक समूह ने महिला उद्यमी पर हमला किया। कक्कानाड में जो हुआ, वह तालिबानी कार्य से कम नहीं है। मैं केरल के लोगों से हलाल का बहिष्कार करने का अनुरोध करता हूँ।”

बता दें कि उत्तरजीविता ने पलारीवट्टोम में नंदुस किचन नामक अपने पहले रेस्त्राँ के बाहर एक बैनर लगवाया था, जिसमें लिखा था कि हलाल भोजना यहाँ प्रतिबंधित है। उस दौरान कई मुसलमानों ने इस तरह का रेस्त्राँ चलाने पर आपत्ति जताई थी। तुशारा ने कहा, “जब कोई हिंदू व्यवसाय शुरू करना चाहता है तो मुस्लिम अवश्य हस्तक्षेप करते हैं।”