समाचार
एलआईसी के उपरांत ही आईडीबीआई बैंक की बिक्री पर काम करेगी केंद्र सरकार

जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के आईपीओ के शुभारंभ के बाद केंद्र सरकार आईडीबीआई बैंक की रणनीतिक बिक्री की दिशा में अपने प्रयासों में तेज़ी लाने को तैयार है।

एयर इंडिया के विनिवेश को ध्यान में रखते हुए केंद्र निवेशकों से उनकी राय लेकर आईडीबीआई बैंक की बिक्री की रूपरेखा तैयार करेगा।

सरकार अन्य निवेशकों तक पहुँचेगी और ऋणदाता के लिए प्रचार अभियान शुरू करेगी लेकिन एलआईसी के सार्वजनिक होने के बाद ही विधायी और अनुपालन परिवर्तन जो बाद में आते हैं, ने वर्तमान में सरकारी अधिकारियों को पूरी तरह से व्यस्त कर दिया है।

बिज़नेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट में घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से कहा गया, “हमने दिसंबर में आईडीबीआई बैंक की प्रारंभिक सूचना ज्ञापन जारी करने की योजना बनाई थी लेकिन आरबीआई के साथ सौदे की संरचना पर विचार-विमर्श में कुछ समय लगा है।”

इसी प्रकार, भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल), शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, कंटेनर कॉर्प (कॉनकोर) और अन्य के निजीकरण पर काम धीमा हो गया है क्योंकि एलआईसी की लिस्टिंग सर्वोच्च प्राथमिकता के रूप में उभरी है, ताकि सरकार वित्त वर्ष-22 के लिए 1.75 लाख करोड़ रुपये के अपने विनिवेश लक्ष्य को पूरा करने के करीब आ सकती है।