समाचार
दिल्ली के बाद बंगाल में भी पटाखों पर रोक, त्यौहार पर 2 घंटे फोड़ सकेंगे ग्रीन पटाखे

पश्चिम बंगाल सरकार ने आगामी त्यौहारी मौसम में पटाखों की बिक्री और उनके फोड़ने पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया। हालाँकि, ग्रीन पटाखे फोड़ने की अनुमति होगी। दीपावली पर दो घंटे (8 बजे से रात 10 बजे तक), छठ पूजा पर 2 घंटे (सुबह 6 बजे से सुबह 8 बजे तक) और क्रिसमस व नए वर्ष की पूर्व संध्या पर 85 मिनट (रात 11:55 बजे से रात 1:20 बजे तक) के लिए अनुमति होगी।

पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी आदेश के अनुसार, 2018 में सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय और ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देशों के अनुपालन में प्रतिबंध लगाया गया है।

आदेश में यह भी कहा गया कि पटाखे फोड़ने से हानिकारक रसायन निकलते हैं और कोविड-19 से संक्रमित मरीजों और होम आइसोलेशन में रहने वालों पर इसका गंभीर प्रभाव पड़ता है।

आदेश में आगे कहा गया कि पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा निर्दिष्ट त्यौहारों के अतिरिक्त पश्चिम राज्य में एक सीमित अवधि हेतु केवल ग्रीन पटाखों के उपयोग के लिए जिला मजिस्ट्रेट, पुलिस आयुक्तों, पुलिस अधीक्षकों की पूर्व अनुमति की आवश्यकता होगी।

27 अक्टूबर तक राज्य में सक्रिय कोविड ​​​​मामलों की कुल संख्या 8,097 थी और उस दिन 976 नए मामले सामने आए थे।

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी 15 सितंबर को पटाखों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा करते हुए दावा किया था कि यह जान बचाने के लिए आवश्यक है। 28 सितंबर को दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति ने 1 जनवरी 2022 तक राष्ट्रीय राजधानी में पटाखों की बिक्री और फोड़ने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया था।