समाचार
वेलस्पन वन हरियाणा में माल गोदाम बनाने के लिए 4500 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

वेलस्पन वन लॉजिस्टिक्स पार्क (वॉल्प) ने राज्य भर में बड़े पैमाने पर माल गोदामों की सुविधाओं को विकसित करने हेतु हरियाणा सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

एकीकृत कोष से राज्य में 1500 करोड़ रुपये का निवेश आकर्षित होगा। महत्वपूर्ण सूक्ष्म बाज़ारों में ग्रुप ए माल गोदामों की सुविधाओं को विकसित करने हेतु परियोजना का लक्ष्य उपलब्ध सरकारी भूमि को उपयोग में लाना है।

दि इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट में वेलस्पन वन कंपनी के प्रबंध निदेशक अंशुल सिंघल के हवाले से कहा गया, “तमिलनाडु सरकार के साथ मिलकर राज्य में 2500 करोड़ रुपये का निवेश, जो अच्छी प्रगति पर है, करने के बाद अब हम उत्तर में अपनी उपस्थिति को सशक्त करने की शुरुआत करते हुए प्रसन्न हैं।”

उन्होंने कहा, “हरियाणा में माल गोदाम के विकास हेतु एक अप्रयुक्त क्षमता है क्योंकि राज्य वर्तमान में ऑनलाइन इलेक्ट्रॉनिक चीजों की खरीदारी में तेज़ी से उभर रहा है।”

पता चलता है कि हरियाणा सरकार के साथ समझौते में 50 लाख वर्ग फीट में फैली परियोजना के निर्माण की योजना है। ये पहल आगामी 3-4 वर्षों में सामने आएगी और इससे 4500 से अधिक नौकरियाँ पैदा होंगी।

ईटी को राज्य सरकार के वरिष्ठ नौकरशाह विजयेंद्र कुमार ने बताया, “हरियाणा एनसीआर में एक उभरता हुआ वेयरहाउसिंग हब है और आर्थिक गलियारों के साथ अपनी रणनीतिक स्थिति के कारण एक प्रमुख खपत बाज़ार है। इसके अतिरिक्त, राज्य की लॉजिस्टिक्स नीति लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउसिंग सेक्टर के लिए अनुकूल माहौल तैयार करती है।”