समाचार
वोडाफोन आइडिया की सरकार के पैकेज के बाद ₹20,000 करोड़ निवेश की योजना

दूरसंचार क्षेत्र के पुनरुद्धार के लिए केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में घोषित किए गए सुधारों के उपरांत आने वाले पखवाड़े में वोडाफोन आइडिया (वीआई) में 20,000 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा।

दी गई राशि में से लगभग 7,000-8,000 करोड़ रुपये प्रमोटरों से आएँगे, जबकि बाकी सरकार द्वारा शुरू किए गए पैकेज के अनुसार टेल्को को लौटाई गई बैंक गारंटी से होंगे।

दूसरी ओर, वोडाफोन आइडिया अपने प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) में मामूली सुधार के बाद ही प्रवर्तकों से नए सिरे से निधि निवेश के लिए जा सकता है।

वित्तीय वर्ष 2021-22 की अप्रैल-जून तिमाही में वोडाफोन आइडिया का एआरपीयू 104 रुपये रहा था। देश भर की टेलीकॉम कंपनियाँ शुल्क पर एक न्यूनतम मूल्य की मांग कर रही हैं, ताकि उनका एआरपीयू कम से कम 200 रुपये के आदर्श आँकड़े तक पहुँच सके।

कंपनी एक रणनीतिक साझेदार के रूप में वर्तमान संकट से बाहर निकलने के लिए लगभग 25,000 करोड़ रुपये जुटाने का प्रयास कर रही है।

दि इंडियन एक्सप्रेस को कंपनी के प्रबंध निदेशक (एमडी) रविंदर ठक्कर ने बताया था कि गत माह दूरसंचार विभाग (डॉट) द्वारा घोषित सुधारात्मक उपायों के बाद निवेशकों की इस पर पुनः रुचि बढ़ी है।