समाचार
श्री केदारनाथ मंदिर के कपाट 6 मई को सुबह 6.25 बजे श्रद्धालुओं के लिए खुलेंगे

श्री केदारनाथ मंदिर के कपाट इस वर्ष 6 मई को सुबह 6.25 बजे श्रद्धालुओं के लिए खुलेंगे।

मंगलवार को महाशिवरात्रि के अवसर पर ओंकारेश्वर मंदिर में आयोजित एक संक्षिप्त धार्मिक समारोह के बाद भगवान् शिव को समर्पित हिमालयी मंदिर के कपाट खुलने की शुभ तिथि और समय की घोषणा की गई।

बद्री-केदार मंदिर समिति के अधिकारी हरीश गौड़ ने बताया कि वृषभ लग्न में मंदिर के कपाट खोले जाएँगे। इस दौरान श्री केदारनाथ के मुख्य पुजारी रावल भीमाशंकर लिंग और बद्री-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय भी उपस्थित थे।

ऊखीमठ का ओंकारेश्वर मंदिर वह जगह है, जहाँ सर्दियों के दौरान केदारनाथ की पूजा की जाती है। उस दौरान क्षेत्र में हिमपात की स्थिति के कारण हिमालयी मंदिर के कपाट बंद रहते हैं।

गौड़ ने बताया कि भगवान् शिव की पंचमुखी (पांचमुखी) मूर्ति 2 मई को केदारनाथ के लिए यहाँ ओंकारेश्वर मंदिर से फूलों से सजी एक अलंकृत पालकी में रवाना होगी।