समाचार
यमुना एक्सप्रेसवे पर ₹10,000 करोड़ की फिल्म सिटी के लिए बोलियाँ आमंत्रित की गईं

उत्तर प्रदेश में यमुना एक्सप्रेसवे के पास 10,000 करोड़ रुपये की फिल्म सिटी विकसित करने की बोली 23 नवंबर को खुलेगी और बोली-पूर्व कार्यक्रम 8 दिसंबर को निर्धारित है।

एएनआई के हवाले से यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यीडा) के सीईओ अरुण वीर सिंह ने कहा, 10,000 करोड़ रुपये की फिल्म सिटी के विकास की बोली 23 नवंबर को खुलेगी, पूर्व बोली 8 दिसंबर को होगी। इसे 1,000 एकड़ भूमि पर बनाया जाएगा, जिसमें से 740 एकड़ में फिल्मांकन गतिविधियाँ होंगी और 40 एकड़ फिल्म संस्थानों के लिए होगी।”

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, यीडा द्वारा दायर फिल्म सिटी की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) से पता चलता है कि फिल्मों का निर्माण 2024 में शुरू होगा। डीपीआर में 120 एकड़ में एक मनोरंजन पार्क, 40 एकड़ में वाणिज्यिक विकास, खुदरा स्थान के लिए 34 एकड़, पाँच सितारा होटलों के लिए 21 एकड़ और आवासीय उद्देश्यों एवं विश्व स्तरीय फिल्म संस्थानों के लिए 40 एकड़ जमीन का प्रावधान सम्मिलित है।

सितंबर 2020 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गौतमबुद्ध नगर में देश की सबसे बड़ी फिल्म सिटी की स्थापना की घोषणा की थी।

इसके बाद एक सप्ताह के भीतर यीडा ने जेवर में आगामी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से केवल 6 किलोमीटर दूर सेक्टर-21 में प्रस्तावित फिल्म सिटी के लिए 1,000 एकड़ भूमि पर ध्यान केंद्रित किया था। इसके अतिरिक्त यह साइट यमुना एक्सप्रेसवे पर स्थित है और पूर्वी परिधीय एक्सप्रेसवे से सिर्फ 12 किमी, दिल्ली से 70 किमी और आगरा से 150 किमी दूर है।