समाचार
उप्र के सिद्धार्थनगर में कर्मचारी के मतांतरण को लेकर चिकित्सक के विरुद्ध मामला दर्ज

उत्तर प्रदेश पुलिस ने शुक्रवार को सिद्धार्थनगर में अपने कर्मचारी को कथित रूप से इस्लाम में मतांतरण के लिए एक चिकित्सक पर मामला दर्ज किया।

इटवा थाना क्षेत्र के एक युवक रामराज यादव ने आरोप लगाया कि वह एक निजी क्लीनिक में काम करता था, जहाँ डॉ फारूकी कमाल ने उसे 2019 में इस्लाम में मतांतरण करने पर मजबूर किया था। चिकित्सक ने उसे कुरान की आयतें पढ़ने के लिए कहा था और उसका आधार कार्ड करम हुसैन के नाम से बनवा दिया था।

उत्तरजीवित ने यह भी आरोप लगाया कि सरकारी अधिकारियों और पुलिस से मिलने के उसने कई प्रयास किए लेकिन न्याय पाने में वह असफल रहा।

पुलिस ने बताया कि यादव की शिकायत पर चिकित्सक और दो अन्य लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। पुलिस अधीक्षक यशवीर सिंह ने कहा कि युवक ने डुमरियागंज निवासी एक व्यक्ति पर मतांतरण का आरोप लगाया है, जिसके बाद मामला दर्ज किया गया है।

उन्होंने कहा कि अब तक की जाँच में यह बात सामने आई है कि युवक ने दो-तीन वर्ष चिकित्सक कमाल के साथ काम किया है। एसपी ने बताया कि युवक हाल ही में जेल से बाहर आया था, जहां उसे मोबाइल फोन चोरी के आरोप में बंद किया गया था। अब सभी पहलुओं की जाँच की जा रही है।