समाचार
झांसी को मिलेगी लाइट मेट्रो, राइट्स लिमिटेड 2024 तक पूरा करेगा सर्वेक्षण का काम

रेल इंडिया टेक्निकल एंड इकोनॉमिक सर्विस लिमिटेड, जिसे राइट्स लिमिटेड के रूप में संक्षिप्त किया गया है, झांसी मेट्रो के लिए सर्वेक्षण कार्य करेगा।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, राइट्स को पहले चरण का सर्वेक्षण 2024 तक पूरा करना है, जिसके बाद रूट और स्टेशनों पर चर्चा शुरू होगी।

रिपोर्ट में कहा गया कि राज्य में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने इस वर्ष मई में झांसी के लिए एक लाइट मेट्रो की स्वीकृति दी थी।

भाजपा ने 2022 के उत्तर प्रदेश चुनावों के लिए अपने घोषणा-पत्र में झांसी और चार अन्य शहरों काशी, मेरठ, गोरखपुर और बरेली में मेट्रो का वादा किया था।

फिलहाल, राइट्स नगर निगम की सहायता से झांसी के लिए गतिशीलता योजना तैयार कर रहा है। इसने शहर में यातायात की स्थिति का सर्वेक्षण पहले ही कर लिया है।

बुंदेलखंड क्षेत्र का सबसे बड़ा यह शहर एक क्षेत्रीय आर्थिक केंद्र है और बड़ी संख्या में घरेलू एवं विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित करता है। यह उत्तर प्रदेश डिफेंस कॉरिडोर के छह नोड्स में से एक है।

झांसी मेट्रो का काम जहाँ गति पकड़ रहा है, वहीं बुंदेलखंड क्षेत्र को दिल्ली व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र को बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से जोड़ा जा रहा है।