विचार
विंडोज़ 11 जैसी क्लाउड कंप्यूटिंग तो गूगल के क्रोम में पहले से ही है!

एक लंबी दौड़ प्रतिस्पर्धा के बाद समाप्ति रेखा पर आप गर्म और हाँफते हुए पहुँचते हैं, जबकि आपका सबसे बड़ा प्रतिस्पर्धी पहले से वहाँ ठंडाया हुआ आराम कर रहा होता है और कहता है, “आपका स्वागत है!”

मसखरी करना नहीं चाह रहा लेकिन क्लाउड कंप्यूटिंग समाधान और ऑपरेटिंग सिस्टम की दुनिया में लगभग ऐसा ही हो रहा है। माइक्रोसॉफ्ट ने घोषणा की है कि 5 अक्टूबर को वह विंडोज़ 11 का वैश्विक विमोचन करेगा।

डेस्कटॉप व लैपटॉप के लिए छह वर्ष पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम का यह नया संस्करण है। इसमें कई परिवर्तनों और बेहतरी का वादा है जो मल्टी-टास्किंग एवं एक मंच से दूसरे मंच पर जाने के काम को अत्यधिक सरल बना देगा।

आर्टिफिशियल इन्टेलीजेन्स से लैस नए विजेट उपभोक्ताओं के डेस्कटॉप को निजीकृत करके उन्हें व्यक्ति-विशिष्ट फीड देंगे, उस हद तक जो कि अब तक संभव नहीं था। विंडोज़ 10 की तरह ही वैध उपभोक्ताओं के लिए नया संस्करण निःशुल्क डाउनलोड के लिए उपलब्ध होगा लेकिन 2022 तक उन्हें अपग्रेड करने के लिए संभवतः आमंत्रित नहीं किया जाएगा।

इस वर्ष के अंत में बिकने वाले नए डेस्कटॉप और पोर्टेबल पीसी में संभवतः विंडोज़ 11 पूर्व-इंस्टॉलित होगा या विंडोज़ 10 के साथ एक निःशुल्क सुनिश्चित अपग्रेड के लिए उपलब्ध होगा। विंडोज़ 11 की घोषणा के बाद माइक्रोसॉफ्ट ने एक और घोषणा की।

अपने ऑफिस समूह को 10 वर्षों पहले इसने क्लाउड-आधारित भुगतान और उपयोग सेवा- ऑफिस 365 में परिवर्तित कर दिया था और अब वैसा ही यह ऑपरेटिंग सिस्टम विंडोज़ के साथ करने जा रहा है।

विंडोज़ 365- कहीं भी, कभी भी कंप्यूटिंग

कहा जाता है कि विंडोज़ 365 एक क्लाउड सेवा है जो विंडोज़ को अनुभव करने का एक नया माध्यम बनती है। निजीकृत ऐप की स्ट्रीमिंग, सेटिंग और किसी भी उपकरण में माइक्रोसॉफ्ट क्लाउड से सामग्री इसकी विशेषता है।

जब सामान्य रूप से उपलब्ध हो जाएगा, तब उपभोक्ता विंडोज़ 11 को प्रसंस्करण क्षमता के विन्यास तथा अपनी स्टोरेज एवं मेमोरी आवश्यकताओं के अनुसार चुन सकेंगे। उसके बाद वे किसी भी उपकरण के वेब ब्राउज़र या स्थानीय एप्लिकेशन के माध्यम से अपने क्लाउड पीसी तक इंटरनेट संयोजकता के साथ कहीं से भी पहुँच सकेंगे।

‘वर्क फ्रॉम होम’ की नई सामान्य स्थिति या किसी भी स्थिति में ‘वर्क फ्रॉम एनीवेयर’ (कहीं से भी) के लिए माइक्रोसॉफ्ट इसे एक नया कार्य मॉडल कह रहा है- “रीमोट कर्मचारी अपना लैपटॉप खोलें, परिवार का कंप्यूटर खोलें या किसी टैबलेट से कीबोर्ड को जोड़ लें,

कोई स्थानीय ऐप या आधुनिक वेब ब्राउज़र खोलें और अपने विंडोज़ 365 खाते में लॉगइन करें। वहाँ उनका क्लाउड पीसी उनके बैकग्राउंड, ऐप, सेटिंग और सामग्री के साथ वैसा ही आ जाएगा जैसा उन्होंने छोड़ा था जब वे आखिरी बार किसी कार्यालय, घर या कॉफी शॉप में थे।”

इतने निर्विघ्न काम का मूल्य भी होगा। आपके उपकरण (आप पाँच उपकरणों पर काम कर सकते हैं) में 12 जीबी की रैम और 512 जीबी का स्टोरेज होना चाहिए। उसके बाद विंडोज़ 365 सब्स्क्राइब करने के लिए प्रति उपभोक्ता को प्रति माह कम-से-कम 2,410 रुपये देने होंगे।

उपलब्ध प्लान

दर्जन भर कर्मचारियों वाले छोटे कार्यालय के लिए भी यह राशि काफी बड़ी हो सकती है। लेकिन यह संप्रति उद्योग ट्रेंड के अनुरूप है जहाँ खरीदने की बजाय लोकप्रिय व्यापार सॉफ्टवेयर सब्स्क्राइब किए जाते हैं जिससे आपको बार-बार भुगतान करना पड़े।

पहले से ऐसा है गूगल का क्रोम ओएस

भले ही विंडोज़ 10 या उससे पहले के संस्करणों के वैध उपभोक्ताओं के लिए विंडोज़ 11 निःशुल्क रहने वाला है, कम-से-कम 14 अक्टूबर 2025 तक, लेकिन घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति उपभोक्ता 4,899 रुपये प्रति वर्ष और परिवार में छह उपभोक्ताओं तक के लिए 6,199 रुपये प्रति वर्ष का भुगतान करना होता है यदि वे क्लाउड आधारित माइक्रसॉफ्ट 365 सेवा का उपयोग 1 टेराबाइट निःशुल्क क्लाउड स्टोरेज के साथ करना चाहते हैं तो।

यही वह स्थान है जहाँ गूगल ऐसा प्रस्ताव देता है जिसे आप मना नहीं कर सकते हैं- इसका वैकल्पिक ऑपरेटिंग सिस्टम और ऑफिस समूह साधारण उपभोक्ताओं के लिए निःशुल्क है। मुख्य रूप से हमेशा ऑनलाइन रहने वाले उपभोक्ता के लिए गूगल ने जो ऑपरेटिंग सिस्टम क्रोमओएस बनाया था, उसके इस वर्ष 10 वर्ष पूरे हो गए हैं।

सामान्य डेस्कटॉप या लैपटॉप पर विंडोज़ की तरह हम में से अधिकांश लोगों ने क्रोमओएस को एक विकल्प की तरह इंस्टॉल किया था। लेकिन हल्का और काम का होने की इसकी विशेषता के कारण यह अधिक से अधिक डेस्कटॉप, लैपटॉप और अवश्य ही एंड्रॉइड फोन में अपनी जगह बना पाया है।

लेकिन केवल क्रोम के ओएस के साथ लैपटॉप? यह एक जोखिम भरा उदाहरण होता। लेकिन अब नहीं। कम-से-कम आज की मोबाइल प्राथमिकता वाली पीढ़ी के लिए तो नहीं ही जिसे आदत है स्मार्टफोन से लैपटॉप या डेस्कटॉप पर आने-जाने की और उसे एक अविरोधी अनुभव चाहिए जैसे फोन पर वह काम करना जो लैपटॉप पर शुरू किया गया था और इसके उलट भी।

क्रोमबुक (जैसा कि क्रोम-आधारित टैबलेट, लेपटॉप को कहा जाता है) की एक और विशेषता है अबाधित इंटरनेट। यदि आपके मोबाइल में इंटरनेट के लिए डाटा प्लान है तो आप इसका हॉटस्पोट बनाकर अपने लैपटॉप पर उपयोग कर सकते हैं।

केवल क्रोम पर चलने वाले लैपटॉप को बढ़ावा देने के लिए गूगल इस शब्द का उपयोग ऑपरेटिंग सिस्टम एवं निःशुल्क ब्राउज़र दोनों के लिए करता है जो किसी भी एंड्रॉइड फोन में पूर्व-इंस्टॉलित आता है, यहाँ तक कि दोनों के लोगो भी एक ही हैं।

यदि एक बार आपके पास निरंतर इंटरनेट तक पहुँच है तो भारी ऑफिस ऐप्लिकेशन को स्टोर करने के लिए या डाटा अथवा वीडियो फाइल को स्टोर करने के लिए भी आपको लैपटॉप या टैबलेट की अचल संपत्ति की आवश्यकता नहीं होगी।

यह सब क्लाउड में किया जा सकता है और वहीं गूगल ने अपना निःशुल्क ऑफिस तथा गूगल डॉक्स, जी सूट, गूगल ड्राइव, गूगल वर्कस्पेस, जीमेल, गूगल प्लेस्टोर, आदि जैसी उत्पादकता ऐप रखी हैं। इसका अर्थ हुआ कि आप कम क्षमता वाले मंच और इन ऐप्लिकेशन को चलाने के लिए आवश्यक न्यूनतम मेमोरी और स्टोरेज के साथ आराम से ऑनलाइन काम कर सकते हैं।

क्रोमबुक- क्या विंडोज़ के बिना जीवन संभव है?

एसस ने हाल ही में क्रोमबुक का चौरागा (चार का समूह) लॉन्च किया है और इनमें से सबसे छोटा एवं हल्का है क्रोमबुक सी223 जिसका मैं पिछले कुछ सप्ताहों से उपयोग कर रहा हूँ। मैं कह सकता हूँ कि यह सबसे सस्ता एक संपूर्ण लैपटॉप है जिसे आज आप खरीद सकते हैं लेकिन प्रश्न यह है कि क्या आप विडोज़ के बिना रह सकते हैं?

एसस क्रोमबुक सी223

1 किलोग्राम वज़न और लगभग 720पी के साथ एचडी रिज़ॉल्यूशन की 11.6 इंच डायगोनल एलईडी स्क्रीन के साथ सी223 में 38 वॉट-आर की बैटरी है जो लगभग 10 घंटों तक काम करेगी। आजकल वीडियो सम्मेलन हमारी कार्य पद्धति का अभिन्न भाग बन गए हैं और 720पी एचडी कैमरा और स्टीरियो स्पीकर स्काइप, ज़ूम, सिस्को-वेबेक्स या किसी भी मंच के लिए पर्याप्त हैं।

सभी क्रोमबुक्स की तरह सी223 सॉलिड स्टेट स्टोरेज का उपयोग करता है। तुरंत शुरू होने और त्वरित डाटा विनिमय के साथ 32 जीबी का स्टोरेज ऑनलाइन रहने के लिए पर्याप्त है जहाँ आप अपना सारा डाटा क्लाउड पर रखेंगे। यदि आपको गूगल व्यक्ति बनने से कोई समस्या नहीं है तो आपको आश्चर्य होगा कि बहुत सारे हार्डववेयर-इंस्टॉल्ड टूल्स और ऐप्स के बिना आप कितना कुछ कर सकते हैं।

2 एमबी कैशे के साथ इस लैपटॉप को इंटेल सेलेरॉन एन3350 चला रहा है और अधिकांश ऑफिस काम करने के लिए यह उपयुक्त है। अंततः क्रोमबुक्स की कार्य-कुशलता इसपर निर्भर करती है कि आपकी इंटरनेट संयोजकता कैसी है। कुछ सप्ताहों से सिर्फ सी223 पर आपने सारे कार्य करने के बाद मैं कह सकता हूँ कि बिना विंडोज़ के आप अपना आधारभूत कार्यालय का काम कर सकते हैं।

एसस क्रोमबुक काफी हल्का है और 17,999 रुपये के मूल्य के साथ यह आपकी जेब पर भी भारी नहीं पड़ता है। विंडोज़ और माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस समूह से मुक्त करके निर्माता इसी आकार के दूसरे लैपटॉपों की तुलना में 10-15,000 रुपये की कटौती कर सके हैं। आपका स्वागत है हमेशा इंटरनेट पर रहने वाली क्लाउड कंप्यूटिंग में!

आनंद ऑनलाइन इंडिया टेक प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंधन निदेशक व वरिष्ठ आईटी पत्रकार हैं।