समाचार
दीपावली पर अयोध्या में 7.5 लाख दीये जलाने का योगी आदित्यनाथ सरकार का लक्ष्य

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार इस वर्ष दीपावली पर अयोध्या में सरयू नदी के घाटों पर 7.5 लाख दीये जलाएगी।

राज्य सरकार ने अपने 2020 के कीर्तिमान को तोड़ने की योजना बनाई है, जब उसने दीपोत्सव में 5.5 लाख दीये (मिट्टी के तेल के दीपक) जलाए थे।

आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार, आयोजन की तैयारी और उसके लिए प्रस्ताव प्रस्तुत करने हेतु पर्यटन विभाग को कहा गया है। प्रवक्ता ने कहा, “मुख्य कार्यक्रम से पूर्व कार्यक्रम के तीन परीक्षण होंगे। अनुमानित रूप से 7,000 स्वयंसेवक दीपक जलाने में हिस्सा लेंगे।”

दीपावली इस वर्ष 4 नवंबर को पड़ रही है और यह आयोजन एक दिन पहले होने की संभावना है। गत वर्ष दीपोत्सव के दौरान लखनऊ में ललित कला अकादमी के कलाकारों को समारोह के दौरान अयोध्या में महाकाव्य रामायण के विभिन्न प्रसंगों को दर्शाते हुए भगवान राम की 25 मूर्तियों को प्रदर्शित करने के लिए बुलाया गया था।

गत वर्ष दीपोत्सव के लिए पूरे अयोध्या को रोशन किया गया था। सभी घाटों, मठों, मंदिरों और यहाँ तक ​​​​कि निजी घरों में भी रोशनी की गई थी।