राजनीति
कुशीनगर में भाजपा की जीत की खुशी मनाने पर पड़ोसियों ने मुस्लिम युवक को मार डाला

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में भाजपा के चुनाव प्रचार में भाग लेने और हाल ही में हुए राज्य चुनावों में पार्टी की जीत का उत्सव मनाने के लिए अपने पड़ोसियों द्वारा कथित तौर पर पीटे जाने के बाद एक 25 वर्षीय मुस्लिम व्यक्ति की मृत्यु हो गई।

पुलिस ने जानकारी दी कि 20 मार्च को कथारगढ़ी में पीटे गए बाबर अली की लखनऊ में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। रविवार को जब शव गाँव पहुँचा तो उनके परिजनों ने अंतिम संस्कार से मना कर दिया और अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की।

हालाँकि, स्थानीय विधायक पीएन पाठक और अन्य अधिकारी वहाँ पहुँचे और परिवार अली के शव को दफनाने के लिए तैयार हो गया। बाद में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया और कहा कि दो और लोगों की तलाश की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि अली को उसके पड़ोसियों ने कथित तौर पर भाजपा के प्रचार में भाग लेने और विधानसभा चुनावों में पार्टी की जीत का जश्न मनाने के लिए निशाना बनाया था।

पीड़ित की पत्नी फातिमा खातून की शिकायत पर पुलिस ने 21 मार्च को अजीमुल्ला, आरिफ, सलमा और ताहिद के विरुद्ध मामला दर्ज किया था। अब तक चार आरोपियों में से आरिफ और ताहिद को गिरफ्तार किया गया है।

खबरों के मुताबिक, अली ने विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा नेता पाठक के लिए प्रचार किया और जीत के दिन उन्होंने ना सिर्फ पटाखे फोड़े बल्कि मिठाइयाँ भी बाँटी थीं।

पुलिस ने कहा कि इस पर उसके पड़ोसी नाराज हो गए और उसे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी। 20 मार्च को उन्होंने उसे उसके घर में घेर लिया और लाठी-डंडों से पीटना शुरू कर दिया। वह जब स्वयं को बचाने के लिए घर की छत पर चढ़ा तो उन्होंने उसे वहाँ से नीचे फेंक दिया।

अली के भाई चंदे आलम और फातिमा ने संवाददाताओं से कहा कि वे अपने पड़ोसियों से सुरक्षा पाने के लिए कई बार पुलिस और अन्य अधिकारियों के पास गए लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी और पीड़ित एक ही समुदाय के हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अली के निधन पर शोक जताया है और उनके परिवार के प्रति आभार जताया है। उन्होंने अधिकारियों को मामले की निष्पक्ष जाँच के निर्देश दिए हैं।