समाचार
उप्र चुनाव- बसपा ने पाँचवें चरण में खेला बड़ा दांव, 61 सीटों की जारी सूची में 22 ब्राह्मण

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के पाँचवें चरण के लिए सर्वाधिक ब्राह्मणों को उम्मीदवार बनाकर बड़ी चाल चली है। इसी चरण में राम जन्मभूमि क्षेत्र अयोध्या से लेकर अवध तक मतदान होना है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने चुनावी माहौल बनाने के लिए सर्वाधिक बैठकें भी इन्हीं क्षेत्रों में की हैं। उनकी रिपोर्ट और क्षेत्रीय संतुलन के आधार पर ही सर्वाधिक ब्राह्मणों को टिकट देने का कारण माना जा रहा है।

पार्टी सोमवार से पूर्व चारों चरणों की 232 सीटों के लिए प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है। केवल 27 ब्राह्मणों को ही इन चरणों में टिकट दिया गया लेकिन पाँचवें चरण की 61 सीटों के लिए जारी की गई सूची में एक साथ 22 ब्राह्मणों को उम्मीदवार के तौर पर उतार दिया गया।

बसपा की पाँचवें चरण में ब्राह्मणों को दी जाने वाली तरजीह स्पष्ट तौर पर संकेत देती है कि इसके पीछे पार्टी की बड़ी राजनीति है। कहा जा रहा है कि इसके बाद आने वाली शेष दो चरणों के उम्मीदवारों की सूची में ब्राह्मणों की भागेदारी और अधिक बढ़ सकती है।

छठवाँ और सातवाँ चरण पूर्वांचल का है। अब तक पार्टी 293 सीटों पर 81 सवर्ण, 80 ओबीसी, 63 एससी और 69 मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है।