समाचार
भाजपा ने उप्र के विधानसभा चुनाव के लिए निषाद पार्टी से की गठबंधन की घोषणा

भाजपा के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने शुक्रवार (24 सितंबर) को 2022 में होने वाले चुनावों के लिए निषाद (निर्बल भारतीय शोषित हमारा आम दल) पार्टी के साथ गठबंधन की घोषणा की।

वर्ष 2016 में बनी निषाद पार्टी का पूर्वी उत्तर प्रदेश में विशेष तौर पर निषाद, केवट, मल्लाह, बेलदार और बिंद जातियों में महत्वपूर्ण प्रभाव माना जाता है, जो पूर्वांचल के कई जिलों में जनसंख्या का 17 प्रतिशत तक है।

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, “भाजपा का हमेशा से निषाद पार्टी के साथ गठबंधन रहा है और आज इसकी आधिकारिक घोषणा हो रही है। निषाद पार्टी के साथ सीट बटवारे पर एक सम्मानजनक आपसी निर्णय लिया गया है और सही समय पर इसकी घोषणा की जाएगी। साथ ही कई अन्य दल भी हमारे संपर्क में हैं।”

कइयों का मानना है कि निषाद पार्टी को 2022 में 403 सीटों वाली उत्तर प्रदेश विधानसभा में चुनाव लड़ने के लिए भाजपा से दस से अधिक सीटें मिलने की संभावना है।

भाजपा नेतृत्व भी निषाद पार्टी के महत्व की सराहना करते हुए दिखाई दी है। इसमें सिर्फ राज्य स्तर के नेता ही सम्मिलित नहीं थे। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय महासचिव संगठन बीएल संतोष ने भी एक मजबूत गठबंधन बनाने के लिए निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद के साथ कई बैठकें की थीं।

भाजपा और निषाद पार्टी के एकसाथ आने से पूर्वांचल में गठबंधन मजबूत होगा। पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र में निषाद समुदाय की एक बड़ी जनसंख्या है। संजय निषाद का दावा है कि निषाद अपने वोटों से राज्य की 100 से अधिक विधानसभा सीटों पर जीत या हार सुनिश्चित कर सकते हैं।