समाचार
नितिन गडकरी ने नए विचारों के लिए इनोवेशन बैंक की स्थापना का प्रस्ताव रखा

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में उत्कृष्टता पर ध्यान केंद्रित करने के लिए नए विचारों, शोध निष्कर्षों और प्रौद्योगिकियों के लिए इनोवेशन बैंक की स्थापना का प्रस्ताव दिया।

भारतीय सड़क कांग्रेस (आईआरसी) की 222वीं मध्यावधि परिषद् की बैठक के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “आईआरसी से नई पहल की अपेक्षा है। नवाचार सभी इंजीनियरों के लिए ध्यानाकर्षण क्षेत्र होना चाहिए।”

उन्होंने कहा कि आईआरसी को दुनिया में आईआईटी और वैश्विक संस्थानों की सहायता से एक विश्व स्तरीय अत्याधुनिक प्रयोगशाला विकसित करनी चाहिए।

मंत्री ने कहा, “सड़क अवसंरचना लोगों, संस्कृति और समाज को जोड़ती है और सामाजिक-आर्थिक विकास के माध्यम से समृद्धि लाती है।”

उन्होंने कहा, “गत आठ वर्षों में राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई 2014 में 91,000 किलोमीटर से बढ़कर अब लगभग 1.47 लाख किलोमीटर हो गई है। हमारी सरकार 2025 तक राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क को 2 लाख किलोमीटर तक बढ़ाने के लिए समर्पित रूप से काम कर रही है। गत आठ वर्षों में हमारी टीम ने कई विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं।”

नितिन गडकरी ने कहा, “सरकार पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। एनएचआईडीसीएल इस क्षेत्र में इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। हम निर्माण के लिए दुनिया की सबसे अच्छी और सबसे सफल तकनीक और नई सामग्री अपनाने को भी तैयार हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “सड़क सुरक्षा सरकार के लिए एक उच्च प्राथमिकता वाला क्षेत्र है। हमें विनिर्देश में सड़क इंजीनियरिंग से संबंधित प्रभावी वैश्विक प्रथाओं और दिशा-निर्देशों को सम्मिलित करने की आवश्यकता है।”