Uncategorised / समाचार
सैन्य कार्यवाहियों का भी राजनीतिकरण करने से नहीं चूकते हैं राजनेता

कर्नाटका के मुख्यमंत्री ने अपने एक बयान में कहा कि पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायु सेना के द्वारा किया गया जवाबी हवाई हमले का जश्न मनाना देश में सांप्रदायिक तनाव को बढ़ा सकता है, उनके इस बयान पर विदेशी मामलों के राज्य मंत्री विजय कुमार सिंह ने कुमारस्वामी को कहा कि, “पुलवामा हमले के बाद जो प्रतिशोध आतंकवाद के खिलाफ लड़ रहे एक पूरे देश की कार्यवाही थी”।

और साथ ही कहा कि, ” एचडी कुमारस्वामी आप क्यों इस कार्यवाही को अपने राजनितिक फायदे के लिए विभाजनकारी तरीके से इस्तेमाल कर रहे हैं और क्यों इसे एक सांप्रदायिक नज़रिये से देख रहे हैं”।

पुलवामा हमले में जहां सीआरपीऍफ़ के 40 से ज़्यादा जवान शहीद हो गए, वहीं इस हमले पर बहुत से राजनितिक दलों ने राजनितिक टिपण्णियां की।

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायु सेना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार जा कर पाकिस्तान में जैश-ए-मुहम्मद के ठिकानों पर बम बारी की। जिसके बाद पुरे देश में खुशियों का माहौल देखने को मिला।

कुमारस्वामी ने पहले भाजपा को हवाई हमले पर राजनिती करने का आरोप लगते हुए कहा था कि, अगर इसी प्रकार की कटटरता चलती रही तो बहुत से मासूमों की जान जा सकती है।

आतंकवादियों के डेरों पाकिस्तान जा कर बेम बारी करना फिर, सड़क के किनारे पटाखे फोड़ना और चाय बाँटना यह सब कार्य करके भाजपा देश में संप्रदायक तनाव को बढ़ाना चाहती है, -एचडी कुमारस्वामी ने कहा।