समाचार
पराग अग्रवाल बनेंगे ट्विटर के नई सीईओ, जैक डॉर्सी ने की पद छोड़ने की घोषणा

ट्विटर के नए मुख्य कार्यकारी अधिकारी ( सीईओ) का कार्यभार अब पराग अग्रवाल संभालेंगे। जैक डॉर्सी ने सीईओ का पद छोड़ने के बाद इसकी घोषणा की। पराग कंपनी में मुख्य तकनीकी अधिकारी के रूप में कार्य कर रहे थे।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, पराग अग्रवाल ने आईआईटी बॉम्बे से पढ़ाई की। ट्विटर बोर्ड ने भी उनके सीईओ बनने की अनुमति दे दी। एटीएंडटी, याहू और माइक्रोसॉफ्ट में काम करने के पश्चात पराग 2011 में ट्विटर में गए थे। उन्होंने डॉक्टरेट स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय से किया।

2018 में उन्हें ट्विटर का मुख्य तकनीकी अधिकारी बनाया गया। कहा जाता है कि उनकी इंजीनियर विशेषता आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और एड नेटवर्क में है। दोनों कंपनी के लिए बेहद आवश्यक है। उनके काम को जैक डॉर्सी भी पसंद करते हैं। उन्होंने कर्मचारियों को भेजे गए मेल में लिखा, “सीटीओ के तौर पर पराग ने मशीन लर्निंग पर काफी काम किया। अब सिर्फ 10 वर्ष में वे कंपनी के सीईओ बन गए हैं।”

जैक डॉर्सी ने आगे लिखा, “उनकी पहचान उतनी नहीं है, जितनी सुंदर पिचाई या सत्य नडेला के सीईओ बनने के समय थी।” पराग अग्रवाल ने भी डोर्से का आभार जताया है। उन्होंने लिखा, “मैं जब कंपनी में आया था, तब इसमें 1,000 से कम कर्मचारी थे। इस दौरान कई उतार-चढ़ाव और चुनौतियों का सामना करना पड़ा।”

उन्होंने आगे लिखा, “विश्व हमें देख रहा है। इसको लेकर लोगों के अलग-अलग विचार और सुझाव होंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि वे ट्विटर और इसके भविष्य की चिंता करते हैं। ये संकेत है कि जो काम यहाँ करते हैं, वह मायने रखता है। विश्व को ट्विटर की पूरी क्षमता दिखा दो।”