समाचार
उत्तर प्रदेश चुनाव में अकेले उतरेगी आप, संजय सिंह व अखिलेश के मध्य नहीं बनी बात

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता संजय सिंह ने बीते दिनों सपा प्रमुख अखिलेश यादव से भेंट की थी, जिसके बाद दोनों पार्टियों के मध्य गठबंधन की उम्मीद जताई जा रही थी। हालाँकि, अब सीटों के बँटवारे को लेकर दोनों पार्टियों में सहमति नहीं बन पाई, जिस वजह से उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में आप ने अकेले ही मैदान में उतरने का निर्णय लिया है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, कहा जा रहा है कि समाजवादी पार्टी सीटों को लेकर समझौते पर अधिक झुकने को तैयार नहीं थी, जबकि आप की मांग ज्यादा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने की थी।

आप के प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा कि पार्टी राज्य की सभी सीटों पर अकेले उतरने को तैयार है। हम अगले सप्ताह 100 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा करेंगे। इसके कुछ दिनों पश्चात नई सूची जारी की जाएगी। दिसंबर के अंत तक पार्टी 350 से 400 उम्मीदवारों के नाम तय कर लेगी।

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने बीते दिनों उत्तर प्रदेश के लोगों से लाल टोपी से बचने को कहते हुए खतरे की घंटी बताया था तो इस पर संजय सिंह ने प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने आरएसएस की काली टोपी के बारे में कहा था कि आपकी टोपी और नीयत दोनों काली है। उनके इस बयान पर को लेकर गठबंधन की उम्मीद लगाई जा रही थी।