समाचार
यूएस 31 अगस्त तक अफगानिस्तान छोड़े नहीं तो भुगतने पड़ेंगे गंभीर परिणाम- तालिबान

अफगानिस्तान पर अपना नियंत्रण स्थापित करने वाले तालिबान ने अब यूएस को स्पष्ट संदेश दिया कि अगर उसने अपने सैनिकों की वापसी में देर की तो उसे गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान के प्रवक्ता सोहेल शाहीन ने एक बयान जारी कर कहा कि यूएस सेना 31 अगस्त तक देश से वापस चली जाए।

तालिबान का यह बयान तब आया, जब रविवार को जो बाइडन ने सेना वापसी अभियान के विस्तार को लेकर व्हाइट हाउस में पत्रकारों को जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सेना से विस्तार को लेकर चर्चा चल रही है। उम्मीद है कि हमें विस्तार नहीं करना पड़ेगा लेकिन इस मुद्दे पर चर्चा होने जा रही है।

उन्होंने बताया कि अमेरिकी सेना ने पिछले 24 घंटों में करीब 3,900 कर्मचारियों को अफगानिस्तान से बाहर निकाला है। अमेरिकी और गठबंधन विमानों ने 14 अगस्त से करीब 28,000 लोगों को देश से बाहर निकाला है।

जो बाइडन ने कहा, “अमेरिका काबुल हवाई अड्डे को परिसर में स्थानांतरित करने की योजना पर अमल कर रहा है। हमने हवाई अड्डे के आसपास पहुँचकर सुरक्षित क्षेत्र का विस्तार किया है। सुरक्षा वातावरण भूमि पर तेज़ी से परिवर्तित हो रहा है। हम जानते हैं कि आतंकी स्थिति का लाभ उठाने की कोशिश कर सकते हैं। वे निर्दोष अफगानों और अमेरिकी सैनिकों को निशाना बना सकते हैं।”