समाचार
तालिबान की अमेरिका को चेतावनी- “हमारी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास ना करें”

अफगानिस्तान की तालिबान सरकार के विदेश मंत्री आमिर खान मुताकी ने अमेरिका को चेतावनी दी कि वह उनकी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास ना करें। उन्होंने कहा कि इस संबंध में यूएस को स्पष्ट रूप से समझा दिया गया है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, दोहा में अमेरिका और तालिबान दोनों के जनप्रतिनिधियों की वार्ता के उपरांत मुताकी ने पत्रकारों से कहा, “तालिबान से अच्छे संबंध हर किसी के लिए लाभदायक हैं। किसी को भी अफगानिस्तान सरकार को कमज़ोर करने का प्रयास नहीं करना चाहिए। अफगानिस्तान की अस्थिरता और असुरक्षा से किसी को लाभ नहीं होने वाला।”

इस वार्ता में अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उप विशेष प्रतिनिधि टॉम वेस्ट और अमेरिकी की यूएसएआईडी की शीर्ष अधिकारी साराह चार्ल्स ने भाग लिया था। अमेरिका का कहना है कि वह अफगानिस्तान को कोविड-19 से उबारने के लिए वैक्सीन में सहायता करेगा। हालाँकि, बैठक को लेकर अब तक अमेरिकी की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

मुताकी का कहना है कि अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल इस बात पर सहमत हो गए हैं कि मानवीय आधार पर वह अफगानिस्तान की सहायता करेंगे। उन्होंने अफगानिस्तान के केंद्रीय बैंक के भंडार पर लगी रोक भी हटाने की मांग की।

आमिर खान मुताकी ने साफ कहा कि अफगानिस्तान में उपस्थित आतंकवादी संगठनों पर नियंत्रण पाने के लिए अमेरिका से किसी भी तरह की कोई सहायता नहीं ली जाएगी। बता दें कि यह वार्ता आज भी जारी रहेगी।