समाचार
पंजशीर पर तालिबान के नियंत्रण का दावा, पाकिस्तानी ड्रोनों की सहायता का भी आरोप

अफगानिस्तान के पंजशीर घाटी पर तालिबान ने अपना नियंत्रण स्थापित करने का दावा किया है। उसने कुछ चित्र भी जारी किए, जिसमें उसके लड़ाकों को पंजशीर गवर्नर कार्यालय के बाहर हथियारों के साथ खड़ा हुआ देखा जा सकता है।

टीवी-9 भारतवर्ष की रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान ने कहा, “अल्लाह की मदद और हमारे राष्ट्र के व्यापक समर्थन के साथ देश की पूर्ण सुरक्षा के लिए हमारे अंतिम प्रयासों का परिणाम है कि पंजशीर पर पूरी तरह से विजय प्राप्त कर ली गई। अब प्रांत की घाटी इस्लामी अमीरात के नियंत्रण में आ गई है।”

तालिबान के मुख्य प्रवक्ता ज़बीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा, “इस जीत से हमारा देश पूरी तरह से युद्ध के दलदल से बाहर निकल गया है।”

इंडिया टुडे की रिपोर्टों के अनुसार, इस बीच ऐसी बातें सामने आई हैं, जिनमें दावा किया गया कि पंजशीर प्रांत पर पाकिस्तानी वायु सेना के ड्रोनों द्वारा बमबारी की गई थी। यह दावा समांगन के पूर्व सांसद ज़िया अरियनजद ने किया था, जिनके हवाले से आमाज़ न्यूज़ ने कहा था कि पाकिस्तानी ड्रोन ने स्मार्ट बमों का उपयोग करके पंजशीर पर बमबारी की है।

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि सप्ताहांत में दोनों पक्षों को घाटी में भारी क्षति हुई है। यही वह आखिरी क्षेत्र है, जिस पर प्रतिरोध बल का नियंत्रण था। रविवार देर रात एनआरएफ के फहीम दश्ती और जनरल अब्दुल वुदोद जारा की संघर्ष में मौत हो गई।