समाचार
सोनिया गांधी का बागी नेताओं के समूह को उत्तर, “मैं ही हूँ कांग्रेस की स्थाई अध्यक्षा”

कांग्रेस कार्य समिति की शनिवार (16 अक्टूबर) को सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें संगठन में परिवर्तन की मांग कर रहे कांग्रेस नेताओं पर निशाना साधते हुए उन्होंने उत्तर दिया, “मैं ही कांग्रेस की स्थाई अध्यक्षा हूँ। मुझसे बात करने के लिए मीडिया की सहायता लेने की आवश्यकता नहीं है।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष और चुनाव को देखते हुए की गई बैठक में सोनिया गांधी ने कहा, “पार्टी का हर सदस्य चाहता है कि कांग्रेस का पुनरुद्धार हो। इसके लिए आवश्यक है कि पार्टी के नेता आत्म नियंत्रण और अनुशासन का ध्यान रखें।”

बागी नेताओं के जी-23 समूह पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा, “मैं एक पूर्णकालिक और व्यावहारिक कांग्रेस अध्यक्षा हूँ। मैंने हमेशा स्पष्टता की प्रशंसा की है। मुझे मीडिया के माध्यम से बात करने की आवश्यता नहीं है।”

उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि हमारे सामने कई चुनौतियाँ आएँगी लेकिन अनुशासित और एकजुट रहकर हमें उनका सामना करना है। लखीमपुर खीरी की घटना भाजपा की मानसिकता को दिखाती है कि वह किस तरह किसान आंदोलन को देखती है।

सोनिया गांधी की अध्यक्षता में हो रही बैठक में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी सहित कई अन्य नेता सम्मिलित हैं।