समाचार
वीर बाल दिवस की घोषणा पर सिख निकायों ने प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा में लिखे पत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सिख निकायों और अन्य लोगों से हजारों पत्र प्राप्त हुए हैं। उन्होंने सिख गुरु गोबिंद सिंह के पुत्रों की शहादत को 26 दिसंबर को वीर बाल दिवस के रूप में मनाने के लिए उनकी सरकार के निर्णय की प्रशंसा की है।

आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को जानकारी दी कि लोगों ने इसे विश्व भर में सिख धर्म में आस्था रखने वालों के लिए गर्व का क्षण बताया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि आखिरी सिख गुरु की जयंती पर गत माह प्रधानमंत्री मोदी द्वारा की गई घोषणा की कई सिख समुदाय के नेताओं ने सराहना की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था, “यह साहिबजादों के साहस और न्याय की उनकी तलाश के लिए एक उचित श्रद्धाँजलि है।”

उन्होंने मुगलों द्वारा उनकी हत्या के बारे में बात करते हुए कहा था, “वीर बाल दिवस उसी तिथि को होगा, जिस दिन साहिबजादा जोरावर सिंह जी और साहिबजादा फतेह सिंह जी को एक दीवार में जिंदा चुनवा दिया गया था और वे शहीद हो गए थे। इन दो महापुरषों ने धर्म के महान सिद्धांतों से पथभ्रष्ट होने की बजाय मृत्यु को प्राथमिकता दी थी।”