समाचार
शेयर बाज़ार में तेज़ी से सेंसेक्स पहली बार 60,000 के पार, 60,333 के शिखर पर पहुँचा

सेंसेक्स ने शेयर बाज़ार को पहली बार 60,000 के पार पहुँचा दिया। शुक्रवार (24 सितंबर) को सेंसेक्स 60,333 पर अपना इंट्रा डे हाई बनाकर नए शिखर पर पहुँचा। कई बड़ी कंपनियों के शेयर हरे निशान पर दिख रहे हैं।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, शेयर बाज़ार में गुरुवार को तेज़ी आने के साथ बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाज़ार पूंजीकरण 261.73 लाख करोड़ रुपये के अब तक के सर्वकालिक रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गया था।

चौतरफा खरीदारी से 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 958.03 अंक यानी 1.63 प्रतिशत के उछाल के साथ उच्चतम स्तर 59,885.36 अंक पर बंद हुआ था। कारोबार के दौरान एक समय यह 1,029.92 अंक की बढ़त के साथ 59,957.25 अंक के स्तर तक पहुँच गया था।

इस तेज़ी के साथ बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाज़ार पूंजीकरण 3,16,778.1 करोड़ रुपये बढ़कर 2,61,73,374.32 करोड़ रुपये की सर्वकालिक ऊँचाई पर पहुँच गया। देश में तेज़ी से हो रहे टीकाकरण अभियान का भी निवेशकों पर सकारात्मक असर पड़ा है।

जानकारों का कहना है कि अमेरिका फेडरल रिज़र्व प्रमुख के बयान की वजह से बाज़ार ने मजबूती पकड़ी है। केंद्रीय बैंक ने कहा कि वह बांड खरीद कार्यक्रम में बदलाव के बारे में नवंबर में घोषणा कर सकता है। चीन की रियल एस्टेट कंपनी के संकट को लेकर अच्छी खबर आने के बाद बाज़ार बेहतर हुआ।

समाचार लिखे जाने तक बीएसई सेंसेक्स 60,163 अंक पर मजबूती से बना हुआ है। वहीं, निफ्टी भी 82 अंकों की तेज़ी के साथ 17,906 पर है। बता दें कि निफ्टी-50 इंडेक्स ने भी 17,947 का इंट्रा डे हाई बनाया है।