समाचार
सर्वोच्च न्यायालय ने देशमुख व मलिक को नहीं दी एमएलसी चुनाव में मतदान की अनुमति

सर्वोच्च न्यायालय ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख और कैबिनेटे मंत्री नवाब मलिक को महाराष्ट्र विधान परिषद् चुनाव में मतदान करने की अनुमति देने से मना कर दिया है। दोनों नेता अलग-अलग मामलों में न्यायिक हिरासत में हैं।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, महाराष्ट्र में सोमवार (20 जून) को एमएलसी चुनाव के लिए मतदान हो रहा है, जिसमें मतदान करने के लिए नवाब मलिक और अनिल देशमुख ने सर्वोच्च न्यायालय से अनुमति मांगी थी।

इससे पूर्व, उच्च न्यायालय ने दोनों नेताओं की मांग को खारिज कर दिया था।

288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में केवल 285 वोट ही उपलब्ध हैं क्योंकि मलिक व देशमुख न्यायिक हिरासत में हैं और हाल ही में शिवसेना विधायक रमेश लाटके का निधन हो गया।

बता दें कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले के चलते मलिक न्यायिक हिरासत में हैं, जबकि, देशमुख के विरुद्ध ईडी ने जाँच चल रही है, जिसके चलते वह न्यायिक हिरासत का सामना कर रहे हैं।