समाचार
केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों के सभी परिसरों की छत पर लगेंगे सौर ऊर्जा पैनल, हुआ समझौता

हरित ऊर्जा की ओर बड़ा कदम बढ़ाते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शुक्रवार (6 मई) को भारतीय सौर ऊर्जा निगम (एसईसीआई) लिमिटेड के साथ केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के परिसरों में सौर ऊर्जा पैनल स्थापित करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।

गृह मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति में कहा, “अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने के भारत सरकार के प्रयासों की दिशा में एक कदम बढ़ाते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के मार्गदर्शन में गृह मंत्रालय ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के परिसरों में सौर ऊर्जा पैनल स्थापित करने का प्रस्ताव दिया है।”

मंत्रालय ने बताया, “इसके अनुसार, नई दिल्ली में गृह मंत्रालय (एमएचए) और भारतीय सौर ऊर्जा निगम लिमिटेड (एसईसीआई) के मध्य 6 मई को केंद्रीय गृह सचिव और नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के सचिव की उपस्थिति में एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए थे।”

मंत्रालय के अनुसार, इस समझौते में सोलर रूफटॉप पीवी पावर प्लांट्स की संयुक्त रूप से स्थापना के लिए दोनों पक्षों के मध्य सहयोग की परिकल्पना की गई है।

आगे कहा गया, “उपलब्ध आँकड़ों के आधार पर भारतीय सौर ऊर्जा निगम (एसईसीआई) ने सीएपीएफ और एनएसजी के परिसरों में 71.68 मेगावॉट की कुल सौर ऊर्जा क्षमता का अनुमान लगाया है।”

मंत्रालय ने कहा, “यह कार्य या तो सीधे किया जाएगा या किसी एजेंसी अथवा एजेंसियों के माध्यम से पूरा किया जाएगा। एजेंसियों का चयन प्रतिस्पर्धात्मक बोली प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा और जो रूफटॉप सोलर पीवी पावर प्लांट का काम पूरा करने के लिए गृह मंत्रालय का सहयोग करेंगी।”