समाचार
पटियाला के काली मंदिर में देवी माँ का अपमान करने के प्रयास में एक आरोपी गिरफ्तार

पटियाला के ऐतिहासिक काली मंदिर में सोमवार को कथित रूप से भगवान् का अपमान करने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस ने कहा कि सोशल मीडिया पर सामने आए एक वीडियो में आरोपी मंदिर के बाड़े पर चढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है और उस स्थान पर पहुँच गया, जहाँ देवी माँ की मूर्ति रखी थी।

पटियाला के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) अशोक कुमार ने बताया कि आरोपी की पहचान नैनकलां गाँव के राजबीर सिंह के रूप में हुई है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके विरुद्ध आईपीसी की 295-ए सहित कई संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया।

कई राजनीतिक नेताओं ने घटना की निंदा की। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने ट्वीट किया, “आज दोपहर करीब 2.30 बजे पटियाला के श्री काली माता मंदिर में एक व्यक्ति पहुँचा और उस दहलीज पर चढ़ गया, जहाँ श्री काली माताजी की मूर्ति स्थापित थी। इसके बाद उसे पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया।”

उन्होंने कहा, “कुछ निहित स्वार्थी तत्व आगामी चुनावों को देखते हुए पंजाब के सामाजिक समरसता को अस्थिर करने का लगातार प्रयास कर रहे हैं लेकिन मैं उन्हें उनकी द्वेषपूर्ण मंशाओं में सफल नहीं होने दूँगा।”

अमरिंदर सिंह ने घटना की निंदा करते हुए कहा, “पंजाब में शांति भंग करने के बार-बार किए जा रहे प्रयासों को सहन नहीं किया जाएगा। मैं सख्त कार्रवाई करने का आग्रह करता हूँ, ताकि राज्य में माहौल खराब न हो।”

आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, “पटियाला के श्री काली माता मंदिर में भगवान् के अपमान का प्रयास अत्यंत निंदनीय है। आरोपी को कड़ा दंड दिया जाना चाहिए।”

शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल और पंजाब भाजपा नेता सुभाष शर्मा ने भी घटना की निंदा की।