समाचार
पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक की जाँच हेतु उच्च स्तरीय समिति गठित की

पंजाब सरकार ने गुरुवार (06 दिसंबर) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य के दौरे के दौरान हुई सुरक्षा चूक की जाँच के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है।

बुधवार को फिरोजपुर में प्रदर्शनकारियों द्वारा नाकेबंदी के कारण प्रधानमंत्री का काफिला फ्लाईओवर पर एक बड़ी सुरक्षा चूक में फँस गया था। इसके बाद प्रधानमंत्री एक रैली सहित किसी भी कार्यक्रम में सम्मिलित हुए बिना पंजाब से लौट आए थे।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार को तत्काल रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश देते हुए कहा कि उसने आवश्यक तैनाती सुनिश्चित नहीं की, जबकि गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान सुरक्षा प्रक्रिया में इस तरह की लापरवाही पूरी तरह से अस्वीकार्य है और इसकी जवाबदेही तय की जाएगी।

हालाँकि, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इस बात से मना किया कि इसके पीछे कोई सुरक्षा चूक या राजनीतिक मकसद था। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जाँच के लिए तैयार है।