राजनीति
त्रिपुरा में दिवाली के दिन गौहत्या- पुलिस ने अगरतला से सात आरोपियों को किया था गिरफ्तार, मिली जमानत

त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में बुधवार (7 नवंबर) को खुले आम गायों की हत्या करने के लिए सात लोगों को गिरफ्तार किया गया। प्रथम दृष्टया साक्ष्य के आधार पर मुल्लापुरा से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था जिन्हें बाद में जमानत मिल गई थी। आरोपियों की पहचान होस्सेन मियाँ और छोटन मियाँ के रूप में हुई है।

इसके बाद ईंट की भट्टी में काम करने वाले पाँच मज़दूरों, मोहम्मद फजल हक़, सुमन मियाँ, जोयनाल अबेदिन, मोहम्मद अब्दुल जलाल और सैफुल इस्लाम, को गिरफ्तार किया गया। रिपोर्ट के अनुसार एक पुलिस अफसर ने बताया कि इन पर धारा 429 के तहत मवेशी को मारने या अपांग करने का आरोप है। सूबरूम क्षेत्र के रुपाइचेरी में ये गिरफ्तारियाँ की गईं और निकट के रबर बगीचे से जानवर का कंकाल मिला।

पुलिस अफसर का यह भी कहना था कि यह घटना दिवाली के दिन हुई जिससे लोगों की भावनाएँ भी आहत हुईं। इससे पुलिस में शिकायत दर्ज की गई और फिर गिरफ्तारियाँ हुईं।

इसकी प्रतिक्रिया में त्रिपुरा जमियात उलेमा हिंद के अध्यक्ष मुफ्ती तय्यबुर रहमान ने कहा कि राज्य में गौमांस पर प्रतिबंध नहीं है और न ही राज्य में कत्लखाने हैं तो शिकायत वाजिब नहीं है।