राजनीति
स्टेचू ऑफ़ युनिटी से भी लंबी बनेगी सरयू नदी के तट पर भगवान राम की मूर्ति

विश्व हिंदू परिषद की धर्मसभा में भारतीय जनता पार्टी ने यह घोषणा की है कि वे अयोध्या में सरयू नदी के तट पर 221 मीटर लंबी भगवान राम की मूर्ति का निर्माण करेंगे।

हालाँकि, सरकार ने मूर्ति की लागत, निधि और स्थल को अभी सुनिश्चित नहीं किया है लेकिन यह कहा गया है कि यह मूर्ति स्टेचू ऑफ़ युनिटी से भी लंबी होगी। भगवान राम की मूर्ति 151 मीटर लंबी होगी, उसका छत्र 20 मीटर लंबा होगा और 50 मीटर ऊँची चौकी पर यह मूर्ति स्थापित की जाएगी। चौकी के भीतर एक भव्य और अत्याधुनिक संग्रहालय होगा जिसमें अयोध्या का इतिहास, इक्ष्वाकु वंश और राजा मनु की गाथा व राम जन्मभूमि के विषय में जानकारी प्रदर्शित की जाएगी, द हिंदू  ने रिपोर्ट किया।

यह एकलौती मूर्ति नहीं है जिसकी योजना भाजपा बना रही है। उन्होंने प्रयागराज के निकट श्रृंगवेरपुर में भी एक मूर्ति बनाने की घोषणा की है। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री ने पाँच मूर्तियों में से एक को पीतल से बनाने की घोषणा की है।

योगी आदित्यनाथ अयोध्या को एक पर्यटन केंद्र बनाना चाहते हैं और पिछले वर्ष के अपने वादे को पूरा करते हुए वे ‘नया अयोध्या’ में राम की मूर्ति का निर्माण करवाने जा रहे हैं।