राजनीति
भगवान राम या बाबर? छत्तीसगढ़ की चुनावी रैली में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर दागा सवाल

राम मंदिर मामले पर कांग्रेस पर वार करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार (10 नवंबर) को सवाल उठाया कि कांग्रेस को बाबर की ज़्यादा चिंता है या भगवान राम की, हिंदुस्तान टाइम्स  ने रिपोर्ट किया।

“उनसे (कांग्रेस से) पूछा जाना चाहिए कि उनका संबंध भगवान राम से है या आक्रमणकारी बाबर से। कांग्रेस के मन में देश के प्रति सम्मान की भावना नहीं है।”, उ.प्र. मुख्यमंत्री ने कहा।

यह टिप्पणी तब आई जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कबिल सिब्बल ने न्यायालय में याचिका दायर की कि अयोध्या मामले पर निर्णय 2019 से पहले नहीं लिया जाना चाहिए।

छत्तीसगढ़ में एक चुनावी रैली के दौरान योगी ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि इसने राष्ट्रीय सुराक्षा के साथ खिलवाड़ किया है और अपने राजनीतिक लाभों के लिए झारखंड और छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद को पनपने दिया।

“चाहे झारखंड हो या छत्तीसगढ़, नक्सलवादियों को शरण देना और कश्मीर जैसे राज्य को अपने राजनीतिक लाभ के लिए इस्तेमाल करना कांग्रेस की नीति रही है। लेकिन भाजपा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सबसे महत्त्वपूर्ण है इसलिए सुरक्षा के साथ खिलवाड़ यह बर्दाश्त नहीं करेगी।”, आदित्यनाथ ने कहा।

भरपूर खनिज व वन संसाधन होने के बावजूद छत्तीसगढ़ कांग्रेस शासन में “गरीब, पिछड़ा हुआ और बीमारू राज्य रहा” कहकर योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को राष्ट्र-विरोधी शासन कहकर हमला किया। “आज वन संपदा का प्रयोग स्थानीय लोगों के कल्याण के लिए हो रहा है। आदिवासियों व वनवासियों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है।”, उन्होंने कहा।