राजनीति
कंगना बंगाल हिंसा को लेकर कर रही थीं ट्वीट, ट्विटर ने हमेशा के लिए बंद किया खाता

पश्चिम बंगाल में चुनावी परिणाम के बाद हो रही हिंसा को लेकर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने कई ट्वीट किए थे, जिसके बाद उनका खाता हमेशा के लिए निलंबित कर दिया गया।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, ट्विटर ने कहा, “घृणित आचरण नीति का कंगना रनौत उल्लंघन कर रही थी। इस वजह से उनका खाता हमेशा के लिए बंद किया गया है।”

खाता बंद होने पर प्रतिक्रिया देते हुए कंगना ने कहा, “ट्विटर ने मेरी बात साबित की है कि जन्म से गोरे अमेरिकियों को लगता है कि वह एक भूरे रंग वाले आदमी को अपना गुलाम बना सकते हैं। वे आपको यह बताना चाहते हैं कि आपको क्या सोचना है, क्या बोलना या क्या करना है। सौभाग्य से मेरे पास कई मंच हैं, जिनका उपयोग मैं अपनी आवाज़ उठाने के लिए कर सकती हूँ।”

बता दें कि कंगना ने बंगाल हिंसा पर कई ट्वीट किए थे। साथ ही कई वीडियो और चित्र साझा किए थे। इसके बाद उनका ट्विटर खाता बंद कर दिया गया था। अब वह इंस्टाग्राम पर सक्रिय हैं। ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल की जीत के बाद वहाँ से आ रही हिंसा की खबरों पर कंगना वहाँ राष्ट्रपति शासन की माँग उठा रही थीं।

उधर, केंद्रीय सुरक्षा बलों के जाने के बाद देख लेने वाली ममता बनर्जी की धमकी पर उनके ट्विटर खाते को भी बंद किए जाने को लेकर ट्वीट किए जा रहे हैं। उपयोगकर्ताओं का कहना है कि अब ट्विटर को टीएमसी प्रमुख के खाते को भी बंद कर देना चाहिए।

बता दें कि 29 मार्च को नंदीग्राम में ममता बनर्जी ने जनसभा को संबोधित करते हुए धमकी दी थी कि चुनाव के बाद केंद्र सरकार के भेजे गए सुरक्षाकर्मी तो वापस चले जाएँगे लेकिन उनकी सरकार बनी तो वे देख लेंगे, “तब भाजपा के लोग कहेंगे कि यहाँ कुछ दिन और केंद्रीय सुरक्षा बलों को रहने दो, ताकि वो हमें बचा सकें।”

ममता बनर्जी का धमकी भरा वीडियो भी वायरल हो रहा है। इसमें वह कह रही हैं, “जो अन्याय के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता, वो समझेगा…, हम देख लेंगे। आने वाले दिनों में हम ही रहेंगे तो देख लेंगे। वोट के बाद तो सब चले जाएँगे फिर हम ही रहेंगे। तब वे कहेंगे कुछ और दिन केंद्रीय बलों को रख दीजिए? अब ज्यादा दिन बाकी नहीं है।”