राजनीति
“झूठ बोलना मेरा चरित्र नहीं”- राहुल गांधी के आरोपों को डसॉल्ट एविएशन के सी ई ओ एरिक़ ने नकारा

डसॉल्ट एविएशन के सी ई ओ एरिक़ ट्रेपियर ने राफेल सौदे में कांग्रेस द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों को नकार दिया है, जी न्यूज़  ने बताया। फ्रांसीसी कंपनी से राफेल विमान खरीदने पर कांग्रेस ने दावा किया था कि अनिल अंबानी के रिलायंस समूह के साथ ऑफ़्सेट क्लॉज़ में पक्षपात किया गया था।

“मैं झूठ नहीं बोलता। जिस सत्य की मैंने पहले घोषणा की थी और जो कथन कहे थे, वे सत्य हैं। मेरा चरित्र झूठ बोलने वाला नहीं है। मेरी तरह सी ई ओ के पद पर होकर आप झूठ नहीं बोल सकते।”, एरिक़ ने कहा। फ्रांसीसी और भारतीय सरकारों के बीच के सौदे को अपक्षपातपूर्ण बताते हुए, उन्होंने कहा, “कांग्रेस पार्टी के साथ हमारा लंबा अनुभव है। भारत के साथ हमारा पहला सौदा 1953 में हुआ था जब नेहरू प्रधानमंत्री थे। हम भारत के साथ काम करते आए हैं। हम किसी पार्टी के लिए काम नहीं कर रहे हैं। हम भारतीय वायुसेना और भारत सरकार को लड़ाकू विमानों जैसी रणनैतिक वस्तुएँ प्रदान करते आए हैं।”

2 नवंबर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे में 59,000 करोड़ रुपए के बड़े घोटाले का संकेत यह कहकर दिया था, “डसॉल्ट ने 8.3 लाख मूल्य वाली घाटे में चल रही कंपनी को 284 करोड़ रुपए दिए। यह रिश्वत की पहली किश्त है जो अनिल अंबानी को दी गई है।”