दुनिया / राजनीति
श्रीलंका के राष्ट्रपति सिरिसेना ने आरोप लगाया कि भारतीय खुफिया एजेंसी उनकी हत्या का रच रही है षड्यंत्र

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने मंगलवार (16 अक्टूबर) ने आरोप लगाया है कि भारत की खुफिया एजेंसी, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) उनकी हत्या की योजना बना रही है।

द हिंदू  की रिपोर्ट के अनुसार, श्रीलंकाई राष्ट्रपति ने यह बात मंत्रियों के साथ एक साप्ताहिक बैठक के दौरान कही कि भारत की खुफिया एजेंसी उन्हें ‘मारने का प्रयास’ कर रही है लेकिन शायद ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी इस विषय में जानकारी नहीं है।’

सिरिसेना ने यह दावा श्रीलंकाई प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के भारत दौरे के कुछ दिन पूर्व किया है। सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति के आरोपों से अधिकारी अचंभित थे और कहा कि वे इस बात का सत्यापन करके जवाब देंगे।

यह बात पिछले महीने तब फैली जब एक भ्रष्टाचार-विरोधी संगठन में कार्यरत एक व्यक्ति ने दावा किया कि वह सिरिसेना और पूर्व रक्षा सचिव गोटाबया राजपक्षे की हत्या के षड्यंत्र से अवगत है। पुलिस ने उससे पूछताछ की और फिर एक भारतीय को गिरफ्तार किया जिसने स्थानीय मीडिया के अनुसार यह दावा किया था कि वह षड्यंत्र के बारे में जानता है।

श्रीलंकाई सरकार ने इन रिपोर्टों को यह कहकर नकार दिया है कि ये दुष्प्रचार है।

रिपोर्ट के अनुसार बैठक में यह बात सिरिसेना ने अपनी चिंता व्यक्त करते हुए कही कि उनके मृत्यु के षड्यंत्र के प्रति श्रीलंकाई सरकार उदासीन है।

सिरिसेना ने कथित तौर पर कहा, “वह भारतीय ज़रूर रॉ का एजेंट होगा जो मुझे मारने का प्रयास कर रहा है। भारतीय प्रधानमंत्री को इसकी सूचना नहीं होगी। ज़्यादातर मौकों पर यही होता है। ट्रंप को भी सी.आई.ए. के इस प्रकार की चालों का अंदाज़ा नहीं होगा।”