समाचार
राजस्थान में बुलडोज़र से मंदिर ढहा रहे, तो उप्र में भ्रष्टाचार खत्म किया जा रहा है- भाजपा

राजस्थान में भाजपा ने गुरुवार को कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार ने अलवर के मंदिरों पर बुलडोज़र चलवाए हैं, जबकि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए बुलडोज़र चलवा रही है।

अलवर में भाजपा की हुंकार रैली के दौरान पार्टी नेताओं ने राजस्थान में बहुसंख्यक समुदाय पर कथित अत्याचार के लिए राज्य सरकार की आलोचना की। उन्होंने किसान ऋण माफी, कानून व्यवस्था, विद्युत कटौती, बेरोजगारी भत्ता और लंबित भर्ती से संबंधित मुद्दों को भी उठाया।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, “अशोक गहलोत सरकार द्वारा किए गए झूठे वादों से लोग नाखुश हैं। जनता के समर्थन और मोदी सरकार की कल्याणकारी नीतियों पर भाजपा 2023 में तीन-चौथाई बहुमत के साथ राजस्थान में सरकार बनाएगी।”

उन्होंने कहा, “गहलोत सरकार ने जहाँ अलवर में एक 300 वर्ष पुराने मंदिर पर बुलडोज़र चलवाया।”

गत माह अलवर के राजगढ़ में एक अतिक्रमण विरोधी अभियान के दौरान दो मंदिरों को ध्वस्त कर दिया गया था।

भाजपा नेता ने आरोप लगाया, “कांग्रेस के शासन में राज्य के लोगों को जाति और धर्म के नाम पर बाँटने का काम किया गया है। सबसे शांतिपूर्ण राज्य की स्थिति अब बदल रही है और राज्य की छवि खराब हुई है।”

पूनिया ने आरोप लगाया, “मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोटा में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की रैली की अनुमति दी थी, वहीं रामनवमी व हिंदू नव वर्ष पर जुलूसों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। करौली से लेकर जोधपुर तक हिंदुओं पर हमले हुए और पीएफआई राज्य में पैर पसार रहा है, जिसके लिए मुख्यमंत्री ज़िम्मेदार हैं।”

उन्होंने कहा, “कांग्रेस सरकार के संरक्षण में अलवर में अपराध कई गुना बढ़ा है इसलिए भाजपा ने अलवर से अपनी हुंकार रैली आरंभ की है।”