समाचार
बांग्लादेश के सबसे लंबे बहु-उद्देश्यी पद्मा पुल का प्रधानमंत्री शेख हसीना ने किया उद्घाटन

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने शनिवार (25 जून) को देश के सबसे लंबे पद्मा सेतु का उद्घाटन किया।

पद्मा नदी (गंगा नदी) पर 6.15 किलोमीटर लंबा पुल बांग्लादेश के दक्षिण-पश्चिम को देश के शेष भागों से जोड़ता है। यह राजधानी शहर ढाका से मोंगला बंदरगाह के बीच की दूरी को काफी कम कर देता है।

यह दो मंजिला बहुउद्देशीय पुल है, जो सड़क एवं रेल परिवहन प्रदान करता है।

एएनआई को बांग्लादेश सरकार के अधिकारी ने बताया, “पद्मा पुल का पूरा होना बांग्लादेश के 17 करोड़ लोगों के लिए एक सपने के सच होने जैसा है। यह प्रधानमंत्री शेख हसीना के नेतृत्व वाली बांग्लादेश सरकार की एक अनूठी पहल है।”

मुख्य पुल 6.15 किलोमीटर लंबा है। यह 42 स्तंभों से जुड़े 41 स्पैन के साथ 10.642 किलोमीटर तक फैला है।

ढाका ट्रिब्यून के अनुसार, कई संशोधनों के बाद इस परियोजना की लागत बढ़कर 25,000 करोड़ रुपये से अधिक हो गई। सरकार ने देश के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्रों में सड़क और रेल नेटवर्क के साथ संपर्क विकसित करने के लिए अब तक 67,000 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

पद्मा पुल को पूरा करना शेख हसीना के नेतृत्व वाली सरकार के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है क्योंकि इस परियोजना को पूरा करने में लगभग 25 वर्ष लग गए हैं।

प्रधानमंत्री शेख हसीना ने पहली बार 1997 में पद्मा पुल निर्माण का प्रस्ताव रखा था। फिर भी पुल का निर्माण कार्य 2015 में शुरू हुआ, जब चाइना मेजर ब्रिज इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड को 2014 में पुल बनाने के लिए चुना गया था।