समाचार
प्रधानमंत्री मोदी ने फिर की पुतिन से वार्ता, भारतीयों को सुरक्षित निकालने पर हुई चर्चा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर बुधवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से वार्ता की। उन्होंने भारतीयों को सुरक्षित निकालने को लेकर चिंता व्यक्त की। यह वार्ता इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यूक्रेन के बड़े शहरों पर रूस का हमला तेज़ हो चुका है। हमलों में कई लोगों की मौत हो रही हैं।

यूक्रेन संकट को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने पुनः उच्चस्तरीय बैठक की। इससे पूर्व वे मामले को लेकर पाँच बार बैठकें कर चुके हैं। रूसी राष्ट्रपति से वार्ता के बाद यह बैठक बुलाई गई थी। इसमें भारतीयों को सुरक्षित निकालने और आगे की रणनीति पर चर्चा की गई।

यूक्रेन में बिगड़ते हालात के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से भारतीयों के लिए एडवाइजरी जारी की गई है।

विदेश मंत्रालय ने कहा, “रूस की ओर से जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार शीघ्र ही खारकीव शहर को खाली करने को कहा गया है। इस वजह से भारतीय छात्रों को सीमा की ओर जाने के लिए कहा जा रहा है। विद्यार्थी किसी भी तरह यूक्रेन की सीमा वाले क्षेत्रों में पहुँचे।” खारकीव शहर को हर हाल में छोड़ने को कहा गया है।

बता दें कि इससे पहले भी प्रधानमंत्री मोदी ने यूक्रेन संकट को लेकर व्लादिमीर पुतिन से वार्ता की थी। उस दौरान उन्होंने इस मामले को कूटनीति के माध्यम से हल करने की बात कही थी। तब भी प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय छात्रों को सही सलामत वापस भारत लाने की बात कही थी। हालाँकि, उस समय हालात इतने बिगड़े नहीं थे।