समाचार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता कर इन चार क्षेत्रों पर करेंगे बात

2021 में ब्रिक्स में भारत की चल रही अध्यक्षता के एक भाग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 सितंबर को वर्चुअल प्रारूप में 13वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे।

मंगलवार (6 सितंबर) को एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि बैठक में ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा भाग लेंगे।

पीएमओ ने एक विज्ञप्ति में कहा कि भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, न्यू डेवलपमेंट बैंक के अध्यक्ष मार्कोस ट्रॉयजो, ब्रिक्स व्यापार परिषद के अस्थायी अध्यक्ष ओंकार कंवर और ब्रिक्स महिला व्यापार गठबंधन की अस्थायी अध्यक्ष संगीता रेड्डी इस मौके पर शिखर सम्मेलन में उपस्थित राष्ट्राध्यक्षों के सामने अपने-अपने दायित्वों के तहत वर्ष भर में किए कार्यों का ब्यौरा प्रस्तुत करेंगे।

इस बार के शिखर सम्मेलन का विषयवस्तु ब्रिक्स@15: अंतर-ब्रिक्स निरंतरता, एकजुटता और सहमति के लिए सहयोग है।

भारत ने अपनी अध्यक्षता में चार प्राथमिक क्षेत्रों का खाका तैयार किया। इनमें बहुस्तरीय प्रणाली, आतंक विरोध, सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने हेतु डिजिटल व प्रौद्योगिकीय उपायों को अपनाना और लोगों के बीच मेल-मिलाप बढ़ाना सम्मिलित है।

इन क्षेत्रों के अतिरिक्त उपस्थित राष्ट्राध्यक्ष कोविड-19 महामारी के दुष्प्रभाव और मौजूदा वैश्विक एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर भी विचारों का आदान-प्रदान करेंगे।

यह दूसरा अवसर है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे। इससे पूर्व उन्होंने 2016 में गोवा शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता की थी।