समाचार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस वर्ष 400 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्य निर्धारित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ज़ोर देकर कहा कि सुधार और उच्च विकास के सकारात्मक संकेत निर्यात के लिए उच्च लक्ष्य निर्धारित करने का सही समय बनाते हैं।

व्यवसायों, निर्यातकों, विदेशों में भारतीय राजदूतों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने एक रणनीति तैयार करने की योजना बनाई और इस वर्ष 400 अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्य रखा।

पूर्वव्यापी कराधान की व्यवस्था को समाप्त करने के लिए सरकार के इस कदम की पृष्ठभूमि पर बोलते हुए उन्होंने समझाया कि निर्यातक स्थिरता के महत्व को समझते हैं। यह कदम एक स्थिर निवेश माहौल और नीतिगत मामलों के मोर्चे पर स्थिरता के लिए केंद्र की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।

400 अरब डॉलर के निर्यात लक्ष्य के संबंध में प्रधानमंत्री ने चार महत्वपूर्ण घटकों के बारे में बताया, जो इस पहल को आगे बढ़ाने में सहायता करत सकते हैं। पहला रसद एवं परिवहन से संबंधित चुनौतियों को दूर करना, दूसरा निर्यातकों के साथ मिलकर काम करना, तीसरा विनिर्माण बढ़ाना और चौथा भारतीय उत्पादों को विदेशी बाजारों से जोड़ना है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट में प्रधानमंत्री के बयान का हवाला देते हुए कहा गया, “हमारी अर्थव्यवस्था के आकार, क्षमता एवं हमारे विनिर्माण व सेवाओं के आधार को देखते हुए निर्यात बढ़ाने की व्यापक संभावना है। देश जब आत्मानिर्भर भारत की राह पर चल पड़ा है तो प्रमुख रूप से ध्यान देना होगा कि निर्यात एवं वैश्विक आपूर्ति शृंखला में भारत की भागीदारी को कई गुना बढ़ाना है।”