समाचार
प्रधानमंत्री मोदी ने मध्य प्रदेश में पीएमवाई-जी लाभार्थियों के ‘गृह प्रवेश’ में भाग लिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (29 मार्च) वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के लगभग 5.21 लाख लाभार्थियों के गृह प्रवेश में भाग लिया। इस दौरान राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय व राज्यमंत्री, संसद सदस्य और राज्य के विधायक मौजूद थे।

आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, प्रधानमंत्री ने विक्रम संवत के आगामी नव वर्ष में लाभार्थियों को उनके गृह प्रवेश के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा, “पहले के राजनीतिक दलों ने गरीबों के लिए अपने रुख के बावजूद पर्याप्त कार्य नहीं किए हैं।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “पीएम आवास योजना के तहत गाँवों में बने ये 5.25 लाख आवास सिर्फ आँकड़े नहीं, ये 5.25 लाख घर देश में गरीबों के मजबूत होने की पहचान है। एक बार जब गरीब सशक्त हो जाते हैं तो उनमें गरीबी से लड़ने का साहस होता है। जब एक ईमानदार सरकार के प्रयास और सशक्त गरीबों के प्रयास एक साथ आते हैं तो गरीबी हार जाती है।”

उन्होंने आगे कहा, “गरीबों को पक्का मकान उपलब्ध कराने का यह अभियान सिर्फ सरकारी योजना नहीं बल्कि ग्रामीण गरीबों में विश्वास जगाने की प्रतिबद्धता है। गरीबों को गरीबी से बाहर निकालने का यह पहला कदम है। ये घर सेवा भावना और गाँवों की महिलाओं को लखपति बनाने के अभियान को दर्शाते हैं।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि महामारी भी इस अभियान को धीमा नहीं कर सकी है। सरकार ने गरीबों को निःशुल्क राशन उपलब्ध करवाने के लिए 2 लाख 60 हजार करोड़ रुपये खर्च किए हैं। जैसा कि योजना को अगले 6 महीने के लिए बढ़ा दिया गया है, इसके लिए अतिरिक्त 80 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएँगे।