समाचार
प्रधानमंत्री ने देश में कोविड स्थिति की समीक्षा की, ओमिक्रॉन को लेकर दिए विशेष निर्देश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (27 नवंबर) को कोविड-19 से संबंधित स्थिति और देश में चल रहे टीकाकरण अभियान की समीक्षा की। बैठक में कैबिनेट सचिव राजीव गौबा, नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण, आईसीएमआर के डीजी डॉ बलराम भार्गव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी सम्मिलित हुए।

बैठक में प्रधानमंत्री मोदी को कोविड-19 संक्रमण और मामलों पर वैश्विक रुझानों के बारे में जानकारी दी गई। अधिकारियों ने इस बात पर बल दिया कि विश्व भर के देशों ने महामारी की शुरुआत के बाद से कई कोविड-19 लहर देखी हैं।

प्रधानमंत्री ने कोविड-19 मामलों और परीक्षण सकारात्मकता दरों से संबंधित राष्ट्रीय स्थिति की समीक्षा की। अधिकारियों ने उनको टीकाकरण की प्रगति और हर घर दस्तक अभियान के तहत किए जा रहे प्रयासों से अवगत करवाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निर्देश दिया कि दूसरी खुराक के टीकाकरण को बढ़ाने की आवश्यकता है और राज्यों को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि जिन लोगों को पहली खुराक मिली है, उन्हें दूसरी समय पर दी जाए। उन्होंने नए कोरोना के प्रकार को देखते हुए लोगों को सतर्क रहने को कहा।

उन्होंने अधिकारियों से नए कोरोना के प्रकार की खबरों के चलते अंतर-राष्ट्रीय यात्रा प्रतिबंधों में ढील देने की योजना की पुनः समीक्षा करने को भी कहा। उन्होंने निर्देश दिया कि अंतर-राष्ट्रीय यात्रियों और समुदाय से जीनोम अनुक्रमण के नमूने एकत्र किए जाएँ।

प्रधानमंत्री मोदी ने अधिकारियों को राज्य और जिला स्तर पर उचित जागरूकता सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करने का निर्देश दिया। यह सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के साथ समन्वय करने का निर्देश दिया कि विभिन्न दवाओं का पर्याप्त स्टॉक हर जगह उपस्थित हो।

प्रधानमंत्री ने अधिकारियों से पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों और वेंटिलेटर के उचित कामकाज को देखने के लिए राज्यों के साथ समन्वय बनाने को भी कहा है।