समाचार
प्रधानमंत्री मोदी ने उप्र के अगले मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ के संकेत दिए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संकेत दिया कि उत्तर प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ भाजपा की पसंद हैं। उन्होंने कहा कि यदि हमारी सरकार पुनः आती है तो योगी आदित्यनाथ महामारी के कारण बर्बाद हुए समय की भरपाई करेंगे।

एक वर्चुअल रैली में प्रधानमंत्री की यह टिप्पणी प्रदेश के विधानसभा चुनावों में मुख्यमंत्री चेहरे पर हो रही बहस को समाप्त करती हुई नज़र आई।

प्रधानमंत्री ने कहा, “यदि योगी जी की पुनः सरकार बनती है तो गरीबों को घर देने का काम गति से होगा। अगर सरकार के प्रयास लोगों की जान बचाने पर खर्च नहीं हुए होते तो उनके नेतृत्व में राज्य दूसरे स्तर पर पहुँच जाता।”

उन्होंने कहा, “मुझे विश्वास है कि प्रदेश की जनता आने वाले पाँच वर्षों के लिए भाजपा को इतना प्रचंड बहुमत देगी कि आदित्यनाथ को ऐसे कार्यों को पूरा करने की शक्ति मिलेगी।” उन्होंने केंद्र की उज्ज्वला योजना का उल्लेख करते हुए आदित्यनाथ को अगले मुख्यमंत्री के रूप में प्रस्तुत किया।

कुछ माह पूर्व ऐसी अटकलें लगाई जा रही थीं कि भाजपा उत्तर प्रदेश में सत्ता में वापस आने पर एक नए मुख्यमंत्री पर विचार कर रही है।

गृह मंत्री अमित शाह ने अक्टूबर में इस धारणा को दूर करते हुए कहा था कि यदि उत्तर प्रदेश के लोग 2024 में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं तो उन्हें 2022 में आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री के रूप में चुनना होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “जो पहले सत्ता में थे, उन्हें आस्था या आपकी आवश्यकताओं से कोई सरोकार नहीं था। उनका एकमात्र एजेंडा प्रदेश को लूटना था। प्रदेश के लोगों ने स्पष्ट कर दिया कि कुछ लोग पैसे, बाहुबल, जातिवाद या सांप्रदायिकता के आधार पर कितनी भी राजनीति करें, उन्हें जनता का प्यार नहीं मिलेगा।”