समाचार
“मकर संक्रांति पर एक करोड़ से अधिक लोग सूर्य नमस्कार कर सकते हैं”- आयुष मंत्री

केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने बुधवार (12 जनवरी) को जानकारी दी कि 14 जनवरी को मकर संक्रांति के अवसर पर होने वाले आगामी वैश्विक सूर्य नमस्कार प्रदर्शन कार्यक्रम में विश्व भर के 1 करोड़ से अधिक लोग भाग ले सकते हैं।

सर्बानंद सोनोवाल ने एक वर्चुअल कार्यक्रम में कहा कि मकर संक्रांति पर सूर्य नमस्कार प्रदर्शन कोविड -19 के वर्तमान पुनरुत्थान में अधिक प्रासंगिक है।

आयुष मंत्रालय की विज्ञप्ति के अनुसार उन्होंने कहा, “यह सिद्ध तथ्य है कि सूर्य नमस्कार जीवन शक्ति और प्रतिरक्षा को बढ़ाता है इसलिए कोरोना को दूर रखने में सक्षम है। हमने कार्यक्रम में भाग लेने वालों की 75 लाख संख्या का लक्ष्य रखा है लेकिन पंजीकरण और हमारी तैयारियों को देखते लगता है कि यह सीमा एक करोड़ के पार जाने की अपेक्षा है।”

आयुष मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशन और मार्गदर्शन में इस कार्यक्रम की शुरुआत की है।

मंत्रालय ने कहा कि भारत और विदेश के सभी प्रमुख योग संस्थान, भारतीय योग संघ, राष्ट्रीय योग खेल महासंघ, योग प्रमाणन बोर्ड, फिट इंडिया और कई सरकारी और गैर सरकारी संगठन इस विश्वव्यापी कार्यक्रम में भाग लेंगे।