समाचार
वर्तमान में देश भर की सड़कों पर 9.66 लाख से अधिक हैं इलेक्ट्रिक वाहन- केंद्र सरकार

केंद्र सरकार ने शुक्रवार (11 फरवरी) को जानकारी दी कि देश भर में वर्तमान में 966,363 से अधिक इलेक्ट्रिक वाहन सड़कों पर दौड़ रहे हैं।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के ई-वाहन पोर्टल के अनुसार, इलेक्ट्रिक वाहनों की अधिकतम संख्या उत्तर प्रदेश (2,76,217) में है। इसके बाद दिल्ली (1,32,302), कर्नाटक (82,046), बिहार (64,241), महाराष्ट्र (58,815), राजस्थान (53,141) और तमिलनाडु (50,296) का स्थान आता है।

राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में केंद्रीय भारी उद्योग राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि देश में हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने को बढ़ावा देने हेतु केंद्र सरकार ने 2015 से भारत में (हाइब्रिड और) इलेक्ट्रिक वाहन (फेम इंडिया) योजना को तेज़ी से अपनाने और निर्माण अखिल भारतीय आधार पर शुरू किया था।

1 अप्रैल 2019 से वर्तमान में फेम इंडिया योजना का चरण-2, 5 वर्षों की अवधि के लिए लागू किया जा रहा है, जिसमें कुल बजटीय सहायता 10,000 करोड़ रुपये है।

मंत्री ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों के उपयोग को बढ़ावा देने हेतु सरकार ने देश में बैटरी की कीमतों में कमी लाने को एडवांस्ड केमिस्ट्री सेल (एसीसी) के निर्माण के लिए उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना को भी स्वीकृति दी। इसके परिणामस्वरूप इलेक्ट्रिक वाहनों की लागत में कमी आएगी।

इसके अतिरिक्त, इलेक्ट्रिक वाहनों को ऑटोमोबाइल और ऑटो घटकों के लिए पीएलआई योजना के अंतर्गत लाया गया, जिसे 15 सितंबर 2021 को 25,938 करोड़ रुपये के बजटीय परिव्यय के साथ 5 वर्ष की अवधि के लिए अनुमोदित किया गया था।

मंत्री ने बताया, “इस बीच, इलेक्ट्रिक वाहनों पर जीएसटी को 12 प्रतिशत से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है। साथ ही इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जर और चार्जिंग स्टेशनों पर जीएसटी को 18 प्रतिशत से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।”