समाचार
ज़फरउल इस्लाम खान के घर पर “मोबाइल” खोजने के लिए दिल्ली पुलिस ने मारा छापा

दिल्ली पुलिस साइबर सेल ने बुधवार (6 मई) को दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ज़फरउल इस्लाम खान के घर पर बयानों के कारण दर्ज हुए देशद्रोह के मामले में छापा मारा।

“दल उस मोबाइल की खोज कर रहा था जिससे सोशल मीडिया” पर उन्होंने भड़काऊ पोस्ट डाले थे, एजेंसी के स्रोत ने बताया। खान के परामर्शदाता वृंदा ग्रोवर ने आईएएनएस  से इन छापों की पुष्टि की।

खान की आयु 72 बताते हुए ग्रोवर ने कहा कि आईपीसी की धारा 160 के अनुसार पुलिस 65 वर्ष से अधिक के व्यक्ति को कहीं भी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए विवश नहीं कर सकती।

28 अप्रैल को उन्होंने फेसबुक एवं ट्विटर पर विवादास्पद पोस्ट डाला था जिसमें लिखा था, “ध्यान रखो कट्टरपंथियों, तुम्हारे घृणा अभियान, भीड़ हत्याओं और दंगों के विषय में अभी तक भारतीय मुसलमानों ने अरब से शिकायत करनी शुरू नहीं की है। जिस दिन वे ऐसा करने के लिए विवश हो जाएँगे, उस दिन हिमस्खलन हो जाएगा।”