समाचार
यूट्यूब डिसलाइक की गणना को नहीं करेगा प्रदर्शित, दुरुपयोग के कारण लिया निर्णय

यूट्यूब ने घोषणा की है कि वह अपने डिसलाइक बटन की गणना को प्रदर्शित नहीं करेगा। उसका कहना है कि उपयोगकर्ता इसका गलत नीयत से फायदा उठा रहे हैं। वे किसी खास व्यक्ति या चैनल को इसके माध्यम से निशाना बना रहे हैं।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, यूट्यूब ने कहा, “लाइक और डिसलाइक बटनों को प्रयोगात्मक तौर पर शुरू किया गया था लेकिन इसका अनुचित प्रयोग होने लगा। अब डिसलाइक गणना को बंद करने का विचार किया जा रहा है। डिसलाइक बटन तो दिखेगा लेकिन इसकी गणना नहीं प्रदर्शित होगी।”

कंपनी ने नए अपडेट को लेकर एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है। कंपनी ने कहा, “इससे वीडियो बनाने वालों को लाभ मिलेगा। डिसलाइक की गणना हटाने से वीडियो बनाने वालों को वास्तविक जानकारी मिलेगी।”

बता दें कि इससे पूर्व यूट्यूब ने अमेरिका के बाहर यूट्यूब के रचनाकारों से कर वसूलने का निर्णय लिया था। इसमें भारत भी आता है। हालाँकि, राहत यह है कि आपको सिर्फ उसी व्यूज़ पर कर देना होगा, जो अमेरिकी व्यूअर्स से मिले हैं। इसकी नई कर नीति जून 2021 से लागू हो रही है।