समाचार
नोएडा हवाई अड्डे के दूसरे चरण के लिए 1,365 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण की मिली स्वीकृति

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने मंगलवार (16 मार्च) को आगामी नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के दूसरे चरण के लिए जेवर में एक और 1,365 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण को स्वीकृति दी है।

मनीकंट्रोल की रिपोर्ट के अनुसार, कैबिनेट ने भूमि अधिग्रहण के अलावा ग्रीनफील्ड परियोजना के विस्तार से प्रभावित होने वाले लोगों के पुनर्वास के लिए 2,890 करोड़ रुपये के खर्च को स्वीकृति दी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अतिरिक्त मुख्य सचिव एसपी गोयल ने ट्वीट किया, “राज्य मंत्रिमंडल ने आज जेवर में नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के भविष्य के विस्तार के लिए 1,365 हेक्टेयर भूमि के अधिग्रहण के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है।”

बता दें कि जेवर हवाई अड्डे की परियोजना को दिसंबर 2017 में योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा अनुमोदित किया गया था। यमुना एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड, ज्यूरिख इंटरनेशनल एजी और नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे द्वारा स्थापित विशेष प्रयोजन वाहन (एसपीवी) के बीच रियायत समझौते पर अक्टूबर, 2020 में हस्ताक्षर किए गए थे।