समाचार
योगी सरकार महिलाओं से छेड़खानी करने वालों के चौराहों पर लगवाएगी पोस्टर

उत्तर प्रदेश में महिलाओं पर हो रहे अपराधों को रोकने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने नया फरमान सुनाया है। अब छेड़खानी, यौन उत्पीड़न और ऐसे ही अन्य अपराधों में शामिल लोगों के पोस्टर सार्वजनिक स्थानों पर लगवाकर उन्हें लज्जित किया जाएगा।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार, राज्य सरकार के प्रवक्ता ने गुरुवार (25 सितंबर ) को बताया, “मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं के खिलाफ अपराध करने वालों के पोस्टर प्रमुख चौराहों पर लगवाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने ऐसे अपराधियों को महिला पुलिसकर्मियों द्वारा सज़ा दिलवाने के भी निर्देश दिए हैं। इसका उद्देश्य मनचलों और महिलाओं का उत्पीड़न करने वालों के मन में कानून का भय पैदा करना है।”

योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि अगर किसी क्षेत्र में महिला से अपराध होता है तो संबंधित पुलिस क्षेत्राधिकारी, थानाध्यक्ष, चौकी प्रभारी और बीट प्रभारी ज़िम्मेदार होंगे। इसके अलावा सभी जिलों में गठित एंटी रोमियो दल को भी अधिक सक्रिय गया है।

सूत्रों की मानें तो गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने गृह व पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की। इस दौरान एंटी रोमियो दल द्वारा की जा रही कार्रवाई की समीक्षा की गई।

बैठक में यह भी बताया गया कि प्रदेशभर में स्कूल, कॉलेजों, बाज़ारों, चौराहों, मॉल, पार्क जैसे सार्वजनिक स्थानों पर अब तक 83 लाख से अधिक लोगों की गतिविधियों पर नज़र रखी गई। इसमें 7351 के खिलाफ मामले दर्ज किए गए और 35 लाख से अधिक लोगों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है।